राजस्थान के जोधपुर में दिल दहला देने वाली घटना सामने आई हैं. पीपाड़ तहसील के हरियाढाणा गांव में एक युवती ने अपने खेत में पेड़ों को काटे जाने का विरोध किया तो उसे जिंदा जला कर मार डाला गया. हत्या का आरोप गांव के ही सरपंच, पटवारी सहित 10 लोगों पर लगा है.

थाना अधिकारी सुरेश चौधरी के अनुसार, ललिता ने अपने खेत के पेड़ काटे जाने पर विरोध जताया था. इसके बाद झगड़ा हुआ और गांव वालों के एक ग्रुप ने उस पर हमला कर दिया. उन्होंने लड़की पर पेट्रोल डाला और जला दिया. लड़की की अस्पताल में सुबह मौत हो गई.

गांव में बवाल मचने के बाद पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराया और हत्या की संगीन धाराअों में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरु कर दी. युवती के भाई का आरोप है कि पटवारी ओमप्रकाश, सरपंच रणवीरसिंह, श्रवणसिंह, हिम्मतसिंह, मदनसिंह, सुरेश, बाबू और भैरूबख्श ने बहन ललिता पर पेट्रोल या कुछ अन्य ज्वलनशील पदार्थ डालकर जला दिया.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

घटना के बाद गांव में सनसनी फैल गई और चारों तरफ सन्नाटा पसरा हुआ है. ब्राह्मण समाज के लोगों ने प्रशासन को 24 घण्टे में आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग की है.

Loading...