JNU Row Spreads To Aligarh Muslim University AMU

अलीगढ़ – लगता है JNU की आग पूरे देश में लगती हुई नज़र आ रही है, देश की मुख्य यूनिवर्सिटीज में शामिल अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी भी इससे अछूती नही रही, JNU के छात्र संघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार को गिरफ्तार किए जाने के खिलाफ एएमयू (अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी) में विरोध प्रदर्शन किया गया। मंगलवार को जेएनयू स्टूडेंट्स के समर्थन में यहां हुए प्रदर्शन में आरएसएस (राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ) के खिलाफ नारे लगाए गए, ‘राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और रोहित वेमुला के हत्यारों, हमें देशभक्ति न सिखाओ।’

प्रदर्शन कर रहे टीचर्स और स्टूडेंट्स ने इस मामले में राष्ट्रपति को ज्ञापन भी भेजा है। उन्होंने राष्ट्रपति से मांग की है कि देश की यूनिवर्सिटी में समस्या पैदा करने में आरएसएस से संबद्ध संगठनों की भूमिका की जांच की जाए। एएमयू शिक्षक संघ के अध्यक्ष प्रो. मुजाहिद बेग ने कहा कि संकट की इस घड़ी में वे जेएनयू समुदाय के साथ हैं।

यहां बता दें कि एएमयू से पहले कोलकाता की प्रतिष्ठित यादवपुर यूनिवर्सिटी में भी जेएनयू के समर्थन में विरोध प्रदर्शन हुआ और देशविरोधी नारे लगाए गए। इस मामले में केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राज्य सरकार से रिपोर्ट मांगी है।

उधर, देश की प्रतिष्ठित जवाहरलाल नेहरु यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट यूनियन के प्रेजिडेंट कन्हैया कुमार पर राष्ट्रद्रोह लगाने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। बुधवार को जहां कहा जा रहा था कि कन्हैया ने देशविरोधी नारे नहीं लगाए रिपोर्ट में इस बात की पुष्टि की गई है। कुछ ही देर बाद दिल्ली के पुलिस कमिश्नर ने कहा कि कन्हैया के खिलाफ पुलिस के पास पर्याप्त सबूत हैं।

जेएनयू में ‘देशद्रोही नारे’ लगाए जाने के मामले में दिल्ली पुलिस आरोपी छात्रों की तलाश में जुटी है। पुलिस की टीमों ने उत्तर प्रदेश, बिहार और जम्मू कश्मीर में छापे मार रही है। टीवी रिपोर्ट्स के मुताबिक, देशविरोधी नारे लगाने के आरोपी उमर खालिद समेत 5 छात्रों की तलाश में छापेमारी की जा रही है।
Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें