aara1

aara1

बिहार के आरा में एक धर्मशाला में बम विस्फोट के मामले में दुसरे आरोपी की भी गिरफ्तारी हो गई है. आरोपी की पहचान जितेंद्र कुमार सिंह के रूप में हुई है.

आप को बता दें कि गुरुवार को सुबह-सुबह आरा के शीशमहल चौक स्थित जैन समुदाय की हरखेन कुमार धर्मशाला में ये ब्लास्ट हुआ था. जिसमे वृहस्पति उर्फ विक्की नाम का शख्स घायल हुआ था. घायल विक्की ने बताया कि मुझे कोलकाता से बम बांधने के लिए आरा लाया गया था. मुझे बम बांधने का अनुभव नहीं था इस कारण ये हादसा हुआ.

विक्की ने ही जितेंद्र कुमार सिंह सहित अन्य आरोपियों के बारे में जानकारी दी. जितेंद्र आरा के ही मुफस्सिल थाना के गंगहर गांव का रहनेवाला है जो फिलहाल कोलकाता में अपने भाई कृष्णा सिंह के साथ रहता था. एसपी अवकाश कुमार के निर्देश पर गंगहर पंचायत के पूर्व मुखिया संजय सिंह ने दूसरे अपराधी की पहचान की है.

उन्होंने बताया कि पटना रेफर होने के पूर्व विक्की ने पुलिस को बताया कि वे सभी कोलकाता से आज सुबह ही विभूति एक्सप्रेस से आरा पहुंचे थे. स्टेशन अपराधी पर उतर ऑटो से शीशमहल चौक पर पहुंचे और फिर वहीं मौजूद हरखेन धर्मशाला में गये. धर्मशाला के स्टाफ ने कमरे में पहुंचकर सभी को कमरा दिखाया और बाहर निकला. इसी बीच एक अपराधी चार बम शरीर में बांधने लगा. तब तक विस्फोट हो गया. अपराधी ने अपना नाम वृहस्पति उर्फ विक्की बताया है, जो पश्चिम बंगाल के हुगली जिले के तेलीपाड़ा का है. वहां पर राजमिस्त्री का कार्य करता है.

हालांकि इस मामले में अब भी तीन आरोपी फरार है. अन्य संदिग्‍धों की गिरफ्तारी हेतु पुलिस की छापेमारी जारी है. पुलिस ने शहर की नाकेबंदी की हुई है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?