तबरेज अंसारी केस के बाद WhatsApp पर पुलिस की नजर, ये काम किया तो दर्ज होगी FIR

11:30 am Published by:-Hindi News

झारखंड के तबरेज अंसारी मॉब लिंचिंग मामले का बदला लेने से जुड़े कथित टिकटॉक वीडियो को लेकर मुंबई पुलिस की साइबर सेल ने टिक-टॉक सेलिब्रिटी हसनैन खान सहित अन्य लोगों पर मामला दर्ज किया है।

वहीं अब झारखंड पुलिस ने भी राज्य के नागरिकों से अपील की है कि वे WhatsApp के ग्रुप  और अन्य सोशल मीडिया पर सांप्रदायिक माहौल बिगाड़ने वाले संदेश न भेजें। पुलिस ने यह निर्देश भी दिया है कि किसी के भेजे गए संदेश से अगर सांप्रदायिक माहौल बिगाड़ता है तो उस सदस्य और WhatsApp के ग्रुप एडमिन के खिलाफ कार्रवाई होगी।

अपील में झारखंड पुलिस ने कहा है कि किसी धर्म, संप्रदाय, या व्यक्ति की भावनाओं को आहत अथवा किसी प्रकार की भ्रामक या सांप्रदायिक सौहार्द को बिगाड़ने वाली पोस्ट को वायरल ने करें, अगर कोई ऐसा करता है तो ग्रुप एडमिन और पोस्ट भेजने वाले सदस्य के खिलाफ प्राथमिकी (FIR) दर्ज कराकर कार्रवाई की जाएगी। पुलिस ने कहा है कि अफवाह फैलाना या सामाजिक अशांति फैलाना एक डंडनीय अपराध है और इसके लिए दोषी व्यक्तियों को जेल हो सकती है।

बता दें कि टिकटॉक वीडियो में सवाल उठाया गया – ‘मार तो दिया तुम ने तबरेज को, पर कल जब उसकी औलाद बदला ले तो ये मत कहना मुसलमान आतं’कवादी है’। इस वीडियो को लेकर शिवसेना कार्यकर्ता रमेश सोलंकी ने इन लड़कों के खिलाफ मुंबई पुलिस से लिखित तौर पर शिकायत की है।

Loading...