तबरेज अंसारी का केस पहुंचा हाईकोर्ट, झारखंड सरकार जवाब तलब

1:19 pm Published by:-Hindi News

सरायकेला-खरसांवा में बाइक चोरी के आरोप में की गई तबरेज अंसारी की ह’त्या का मामला अब हाईकोर्ट पहुँच चुका है। झारखंड उच्च न्यायालय ने सोमवार को राज्य सरकार से मामले की रिपोर्ट पेश करने को कहा है।

पंकज यादव द्वारा दायर एक जनहित याचिका की सुनवाई करते हुए, इस घटना की उच्चस्तरीय जाँच की मांग की गई। जिस पर न्यायमूर्ति एचसी मिश्रा और दीपक रोशन की खंडपीठ ने राज्य सरकार से मामले की सुनवाई की अगली तारीख 17 जुलाई को एक कार्रवाई-रिपोर्ट पेश करने को कहा।

पीठ ने रांची पुलिस को जिले में हाल की घटनाओं के बारे में 17 जुलाई को एक रिपोर्ट देने का भी निर्देश दिया। इसी बीच सरायकेला-खरसांवा के उपायुक्त की रिपोर्ट के आधार पर सरकार ने भी मान लिया है कि तबरेज अंसारी की मौ’त का कारण मॉब लिंचिंग था।

रिपोर्ट पर सहमति देते हुए मृतक तबरेज के आश्रित के लिए दो लाख रुपये की मुआवजा राशि आवंटित कर दी है। सामाजिक सुरक्षा एवं कल्याण पुनर्वास मद से झारखंड विक्टिम कंप्नशेसन योजना-2012 के तहत यह राशि दी गई है।

इस योजना के तहत राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग के आदेश पर भी पीडि़त को मुआवजा दिया जाता है। गृह कारा एवं आपदा प्रबंधन विभाग के प्रभारी अभियोजन निदेशक राज कुमार सिंह ने सभी चार जिलों सरायकेला-खरसांवा, बोकारो, धनबाद व रामगढ़ के उपायुक्तों को राशि आवंटन संबंधित रिपोर्ट भेज दिया है।

बता दें कि गत 17 जून की रात कदमडीहा गांव के लोगों ने तबरेज अंसारी को चोरी के आरोप में पीटा था। इस दौरान उससे जयश्रीराम और हनुमान के नारे भी लगवाए थे। इस घटना का वीडियो वायरल हुआ था। 18 जून को सुबह पांच बजे घटना की सूचना पाकर सुबह पुलिस मौके पर पहुंची और तबरेज को बचाई।

Loading...