26_04_2016-radhamohan26

हरिद्वार | नोट बंदी के बाद सरकार इस बात का जोर शोर से प्रचार कर रही है की कोई भी अपने खाते का इस्तेमाल कालेधन को सफ़ेद करने में न करे. हालांकि कुछ लोग अभी भी इस काम में लगे हुए है. इसका सबसे बड़ा उदहारण जन धन खातो में जमा रकम है. नोट बंदी के बाद से जनधन खातो में जमा होने वाली रकम में भारी बढ़ोतरी देखी गयी है.

सरकार की और से जारी आंकड़ो में कहा गया की अभी तक जनधन खातो में 75 हजार करोड़ रूपये जमा हो चूका है. कालेधन वाले जिस तरह से जनधन खातो का इस्तेमाल कर रहे है, उससे सरकार की नींदे उडी हुई है. इसलिए प्रधानमंत्री मोदी ने अपने रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात ‘ में भी यह बात उठाई. उन्होंने कहा की जो लोग कालेधन को सफ़ेद करने के लिए गरीबो को इस्तेमाल कर रहे है उनको बख्शा नही जाएगा.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

मुरादाबाद में हुई परिवर्तन रैली में बोलते हुए मोदी ने सभी जनधन खाता धारको को एक खुश खबरी दे दी. मोदी ने कहा की जिसके भी खाते जो रकम जमा हुई है वो उसे न निकाले. मैं दीमाग लगा रहा हूँ की कैसे यह पैसा आपके घर पहुंचे और कालेधन वाला जेल में. मोदी की इसी बात को आगे बढाते हुए केन्द्रीय मंत्री राधा मोहन ने यही बात उत्तराखंड में भी कही है.

हरिद्वार के खानपुर में एक रैली को संबोधित करते हुए केन्द्रीय कृषि मंत्री राधा मोहन ने कहा की जनधन वालो के खाते में जो रकम किसी ने भी जमा कराई है , उसको अपने पास रख ले. यह रकम अपने खातो से मत निकालना. यह रकम आपकी है , आप इसे मत लौटाए. राधा मोहन ने नोट बंदी को एतिहासिक कदम बताते हुए कहा की इससे देश बदलेगा. यह वो सरकार नही है जो आतंकवादियों को दामाद की तरह रखती थी , यह सरकार उनका सफाया कर रही है.

Loading...