Courtesy: Lokbharat
Courtesy: Lokbharat

राजस्थान के जैसलमेर मे एक मुस्लिम लोकगायक की हत्या की पुलिस शिकायत करने पर हिंदू उच्च जाति के लोगों की धमकियों के चलते 200 मुसलमानों को अपना गाँव छोड़ कर पुलिस सुरक्षा में नजदीकी गाँव में रहना पड़ रहा है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, स्थानीय लोक गायक आमद खान एक धार्मिक कार्य के आयोजन में पहुंचा था. इस दौरान श्रद्धालु रमेश सुथार ने एक विशेष भजन गाने की मांग की. ताकि उसके अंदर देवी प्रकटहो सके. लेकिन भजन पूरा होने के बाद भी उसमे देवी प्रकट नहीं हुई. तो इसके लिए उसने आमद खान को जिम्मेदार ठहरा दिया.

धीमा भजन गाने का आरोप लगाते हुए आमद खान के साथ मारपीट की गई. साथ ही रात को सुथार ने अपने दोस्तों के साथ मिलकर आमद का उसके घर से अपहरण भी कर लिया. अगके ही दिन आमद की लाश पाई गई. इस मामले में आमद के परिवार पर पुलिस शिकायत न करने को लेकर गाँव वालों की और से धमकी दी गई. लेकिन कुछ दिनों बाद परिजनों ने हत्या का मामला दर्ज करा दिया.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

यक खान के भाई सुगे खान के हवाले से एचटी ने अपनी रिपोर्ट में लिखा है, ‘उन्होंने हमें धमकी दी कि अगर हमने गांव नहीं छोड़ा तो वे लोग हमें भी मार देंगे. उसके बाद करीब 20 परिवार के 200 लोगों ने गांव छोड़ दिया और पास के बलाड़ गांव में हमारे रिश्तेदार के घर शरण ली.’

जैसलमेर के एसपी गौरव यादव का कहना है कि ‘हमने उन लोगों को पूरी सुरक्षा देने का भरोसा दिया है, अगर वे लोग वापस लौट जाते हैं तो. हम लोगों ने गांव के बड़े लोगों से भी बात की है कि अगर उन्होंने मुस्लिमों को धमकाया तो मामला दर्ज किया जाएगा.

Loading...