Thursday, August 5, 2021

 

 

 

16 करोड़ में सोने से लिखी मुगलकालीन कुरान का सौदा, पुलिस ने युवक को किया गिरफ्तार

- Advertisement -
- Advertisement -

राजस्थान पुलिस ने 15 वीं सदी की स्वर्ण अक्षरों से लिखी गई बेशकीमती कुरान का करोड़ों रुपयों में सौदा करने वाले शातिर बदमाश को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने कब्जे से कुरान भी बरामद कर ली है।

डीसीपी (नार्थ) डॉ. राजीव पचार ने बताया  कि गिरफ्तार आरोपी जमवारामगढ़ के राहोरी गांव निवासी बनवारी मीणा है। इसके कब्जे से लूटी गई 1014 पेज की कुरान बरामद कर ली। आरोपी बनवारी, जयपुर ग्रामीण के चंदवाजी थाना, भीलवाड़ा जिले के सुभाष नगर इलाकों में डकैती, चोरी व धोखाधड़ी के आपराधिक मुकदमों में वांटेड चल रहा था। इससे पहले इस गैंग के तीन बदमाश पुलिस गिरफ्त में आ चुके है।

एडिशनल डीसीपी सुमित गुप्ता के मुताबिक माणकचौक थाना पुलिस ने कुछ दिन पहले 4.77 करोड़ रुपए के नकली नोटों के साथ बनवारी मीणा की गैंग के एक सदस्य जमवारामगढ़ निवासी खेमा उर्फ खेमचंद को गिरफ्तार किया था। पूछताछ में बताया कि उनकी गैंग ने भीलवाड़ा से बेशकीमती कुरान भी लूटी है। इसके बाद थानाप्रभारी जितेंद्र सिंह राठौड़ के नेतृत्व में जिला स्पेशल टीम के एएसआई हरिओम सिंह ने सरगना बनवारी मीणा की तलाश शुरु की।

गुरूवार शाम को एएसआई हरिओम सिंह को बड़ी चौपड़ पर बाईजी के खंदे के पास एक व्यक्ति द्वारा एंटिक कुरान बेचने की फिराक में घुमने की सूचना मिली। तब थानाप्रभारी जितेंद्र सिंह सादावर्दी में टीम लेकर मौके पर पहुंचे। वहां मुखबिर के ईशारे पर बनवारी की पहचान कर पुलिस ने उसे पकड़ लिया। उसके कब्जे से लूटी गई एंटीक कुरान भी बरामद कर ली।

जांच में सामने आया है कि परिवादी के पूर्वजों को यह ऐतिहासिक किताब सम्राट अकबर की ओर से दान में दिए गए मांडलगढ़ किले के साथ दी गई थी। इसका सौदा करने के लिए आरोपी भीलवाड़ा आए थे। यह परिवार लंबे अरसे से आर्थिक तंगी से जूझ रहा है। ऐसे में इस परिवार ने कुरान को बेचने का फैसला किया।

उन्होंने पिछले साल सितम्बर माह में जयपुर निवासी राकेश बंगाली से संपर्क किया था। राकेश की बनवारी मीणा की गैंग के साथियों से पहचान थी। ऐसे में उसने कुरान के बारे में बताया और उस परिवार से संपर्क करवाया। तब कुरान को खरीदने का झांसा दिया और वहां पहुंच गए। इसके बाद पीड़ित योगेंद्र मेहता को कुरान लेकन शहर के बाहर बुलाया। वहां बदमाशों ने योगेंद्र सिंह मेहता से मुलाकात की। फिर उनसे मारपीट कर कुरान लूटकर कार से भाग निकले।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles