jai

स्वच्छ भारत अभियान के तहत राजस्थान के जयपुर में बेहद ही शर्मनाक मामला सामने आया है. जयपुर नगम निगम के कर्मचारियों  ने खुले में शौच कर रहे एक बच्चें को पहले लाठी-डंडों से पीटा फिर उसका मल को जेब में रखने को मजबूर किया.

इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. जिसमे कर्मचारी लड़के को दौड़ा-दौड़ाकर पीटते नजर आ रहे हैं. फिर उसी से मल भी उठवा रहे हैं. यह घटना जयपुर के सांगानेर पुलिया की बताई जा रही है.

इस मामले में जयपुर के मेयर डॉ. अशोक लाहोटी ने कहा कि खुले में शौच रोकने के लिए नगर निगम के स्तर से टीमें तो गठित हैं, मगर लोगों के साथ मारपीट करने की इजाजत किसी को नहीं दी गई है. वीडियो की जांच कराकर कार्रवाई होगी.

हालाँकि इस तरह का ये पहला मामला नहीं है. इससे पहले प्रतापगढ़ में शौंच कर रही महिलाओं की तस्वीरें खींचने से रोके जाने को लेकर स्वच्छ भारत अभियान की टीम के सदस्यों ने मुस्लिम बुजुर्ग ज़फर खान की पीट-पीट कर हत्या कर दी थी.

ज़फर खान ने स्वच्छ भारत अभियान की टीम के सदस्यों को शौंच कर रही महिलाओं की तस्वीरें खींचने से रोका था. जिसके बाद कमल हरिजन, रितेश हरिजन और मनीष हरिजन ने ज़फर खान के साथ मारपीट की थी.