जयपुर स्थित हिंगोनिया गौशाला में गायों की मौत का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा हैं. कुप्रबंधन और भ्रष्टाचार की वजह से हजारों गायें पहले ही काल के मुंह में समा चुकी हैं.

वसुंधरा सरकार के लाख दावों के बावजूद भी कोई सुधार नहीं हुआ हैं और देश कथित गौरक्षकों को इस बारें में कोई फ़िक्र नहीं हैं. पिछले एक सप्ताह में रिकॉर्ड 358 गाय-बछड़ों की मौत हो चुकी है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

पिछले सप्ताह के रिकॉर्ड पर नजर डाले तो मौत का आंकड़ा सामान्य दिनों के मुकाबले 10 से 12 अधिक है. यानी प्रतिदिन औसतम 44 गायों की मौतें हो रही है. गौशाला में शुक्रवार को एक दिन में 68 गाय-बछड़ों की मौत हुई.

20 अगस्त से 27 अगस्त तक हिंगोनिया गौशाला में 358 गायों की मौत हो चुकी है. 26 अगस्त शुक्रवार को हिंगोनिया में 68 गायों एवं बछड़ों की मौत हुई है. इसी प्रकार 20 अगस्त को 33, 21 अगस्त को 40, 22 अगस्त को 26, 23 अगस्त को 48, 24 अगस्त को 41, 25 अगस्त को 39, 26 अगस्त को 68 और 27 अगस्त को 43 गायों की मौत हुई है.