Tuesday, August 3, 2021

 

 

 

जादवपुर विश्वविद्यालय में महिला प्रोफेसर की पिटाई, बीजेपी कार्यकर्ताओं पर लगा आरोप

- Advertisement -
- Advertisement -

जादवपुर विश्वविद्यालय की एक महिला प्रोफेसर ने आरोप लगाया कि संस्थान के परिसर के पास भाजपा की कुछ महिला कार्यकर्ताओं ने उनके साथ ‘‘धक्कामुक्की’’ की। उन्होंने कहा कि एक विशेष समुदाय के खिलाफ की गई अपमानजनक टिप्पणी का विरोध करने पर उनके साथ बुरा सलूक किया गया।

विश्वविद्यालय के अंग्रेजी विभाग की सहायक प्रोफेसर दोयीता मजूमदार ने फेसबुक पर लिखा, ‘‘मैं सीएए-विरोधी रैली से लौट रही थी, तभी भाजपा की भद्र महिलाओं ने मेरे साथ धक्कामुक्की और दुर्व्यवहार किया।’’ मजूमदार ने दावा किया कि महिलाएं ‘‘उसके खून की प्यासी हो गई थीं’’ और इस घटना ने उन्हें काफी डरा दिया है।

उन्होंने कहा कि भगवा कार्यकर्ता खुलेआम ऊटपटांग बातें बोल रही थीं… कुछ देर तक तो ठीक रहा, फिर उन्होंने संस्थान के बारे में भी भला-बुरा बोलते हुए कहा कि ‘यह विश्वविद्यालय सभी बुराइयों की जड़ है, वह सब प्रतिदिन अल्लाहु अकबर बोलते हैं। इसपर मुझे गुस्सा आया और मैंने दो बार जोर से चिल्ला कर कहा कि यह सब ‘मिथ्या कोठा’ (झूठ-झूठ) है।’’

राज्य भाजपा के सूत्रों के अनुसार, पार्टी के राज्यसभा सांसद स्वपन दासगुप्ता, बोंगांव से लोकसभा सांसद, संतनु ठाकुर, और राज्य के वरिष्ठ भाजपा नेता शमिक भट्टाचार्य सोमवार को केम्पस के बाहर बैठक में शामिल थे।

शमिक भट्टाचार्य ने कहा कि हम जिस समय बैठक कर रहे थे, उसी वक्त वामदलों के कुछ समर्थक आकर नारे लगाने लगे। उन्होंने हमारे कार्यकर्ताओं को धक्का भी दिया लेकिन हमने संयम बनाए रखा। हमारे कार्यकर्ता किसी भी हमले में शामिल नहीं हैं।

पीड़िता ने थाने में इस मामले की शिकायत दर्ज कराई है। उधर, बोलपुर व्यवसायी समिति ने आरोपितों के खिलाफ शीघ्र कार्रवाई नहीं होने पर आंदोलन की चेतावनी दी हे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles