It’s our primary duty to spread Islam: Farooq

नेशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला ने गुरुवार को लोगों को “एकता बनाए रखने” और इस्लाम की शिक्षाओं के प्रसार के लिए काम करने की अपील की.

जामिया जिया-उल उलूम, हायर सेकेंडरी स्कूल पुंछ के छात्रों के एक समूह को उनके आवास पर संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, “पूरे देश बहुत कठिन समय से गुजर रहा है. एकता को तोड़ने के लिए सांप्रदायिक ताकतें हमलावर हैं. उनका एकमात्र उद्देश्य शांतिपूर्ण माहौल में घृणा फैलाना और उसे बिगड़ना है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

दारूल उलूम के प्रमुख मुल्लवी वाहिद अहमद बंदे के नेतृत्व वाले छात्र पांच दिवसीय काश्मीर की यात्रा पर हैं. फारूक ने विद्यार्थियों को पवित्र कुरान सीखने और इस्लाम की शिक्षाओं को अपनी वास्तविक भावना में आत्मसात करने के लिए जोर दिया.

उन्होंने छात्रों से कहा, “मुसलमानों के रूप में, इस्लाम का प्रसार हमारा प्राथमिक कर्तव्य है. रास्ता तुम्हारे सामने है, जो पहले तुम्हे सीखना है और फिर पवित्र पुस्तक की शिक्षाओं को फैलाने और दूसरों को इसे समझाने में मदद करना है. इसलिए यह आपका कर्तव्य बन जाता है कि आप सभी को इस्लाम को फैलाए.”

बाद में फारूक ने छात्रों के बीच शॉल और टोपी का वितरण किया और जामिया और दार-उल-उलूम पुंछ के मौलाना गुलाम कदिर बंदे के कामकाज की सराहना की, जो ऑल इंडिया पर्सनल लॉ बोर्ड के सदस्य भी हैं.

Loading...