मध्य प्रदेश में पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई के लिए जासूसी करने वाले नेटवर्क के खुलासे के सामने आने के बाद राज्य में समानांतर टेलीफोन एक्सचेंज चलाने का भी खुलासा हुआ था. इसी टेलीफोन एक्सचेंज के जरिए आईएसआई के लिए जासूसी की जाती थी.

अब इस कांड को लेकर एक और खुलासा हुए हैं, राज्य में चले इस समानांतर टेलीफोन एक्सचेंज के खेल में केंद्र सरकार को 18 हजार करोड़ रुपये की चपत लगी है. वहीँ मध्य प्रदेश को दो हजार करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है. यह पर्दाफाश पुलिस मुख्यालय द्वारा केंद्र सरकार को सौंपी गई रिपोर्ट में हुआ है.

इस नेटवर्क के जरिए अब तक देशभर में करीब 100 समानांतर एक्सचेंज चलने का खुलासा एटीएस सहित अन्य जांच एजेसियां कर चुकी हैं. जबकि राज्य में करीब 30 समानांतर टेलीफोन एक्सचेंज का खुलासा हुआ हैं.

आईएसआई नेटवर्क में चौथे और बड़े खिलाड़ी बिहार के मनोज मंडल के पास भी करीब 150 बैंक खातों के होने का पता एटीएस को चला है. मंडल भी ऑनलाइन ठगी का पैसा जब्बार तक पहुंचाता था. उधर, दिल्ली का जब्बार इम्पोर्ट एक्सपोर्ट के नाम पर सलवार सूट और गर्म कपड़े पाकिस्तान भेजता था.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें