पाकिस्तान की ख़ुफ़िया एजेंसी आईएसआई के लिए जासूसी करने के मामलें में खुफिया एजेंसी की सूचना पर छत्तीसगढ़ पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया हैं. ये सभी मध्यप्रदेश में गिरफ्तार हुए ध्रुव सक्सेना के सहयोगी हैं.

मध्यप्रदेश एटीएस द्वारा बलराम और रज्जन से हुई पूछताछ के बाद छत्तीसगढ़ पुलिस ने मनीन्द्र यादव पिता राधेश्याम निवासी अकलतरा, 26 वर्षीय संजय देवांगन पिता टीकाराम निवासी जांजगीर चांपा को गिरफ्तार किया हैं. ये दोनों बलराम और रज्जन द्वारा बताए गए खातों में राशि जमा करते थे. इन लोगों ने जम्मू निवासी सतविंदर सिंह के खाते में भी भेजे थे.

बलराम और रज्जन की गिरफ्तारी के बाद ये डरे हुए थे. पुलिस से बचने के लिए ये दोनों अंडर ग्राउंड भी हो गये थे. लेकिन पुलिस ने इन लोगों को गिरफ्तार कर लिया.

संजय ने पूछताछ में बताया कि वह सतना निवासी बलराम और रज्जन के लिये पैसों का ट्रांजेक्शन का काम कर रहा था. उसने बताया कि वह अपने एसबीआई और यूबीआई बैंक के खाते इस्तेमाल के लिए मनीन्द्र यादव को दिया हुआ था. इन लोगों ने बताया कि इनके द्वारा जम्मू निवासी सतविंदर सिंह को भी राशि भेजी गई है जिसके द्वारा देश के सामरिक महत्व की सैन्य सूचनाएं और सैन्य महत्व के पुलों की जानकारी आईएसआई को दी जाती थी.

छग पुलिस के मुताबिक इन दोनों युवकों द्वारा जांजगीर चांपा के पंजाब नेशनल बैंक के माध्यम से जम्मू कश्मीर निवासी सतविन्दर को बड़ी रकम भेजी गई थी.

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें