burning paper 1898680 by stockproject1 d36cjgo

छत्तीसगढ़ में सत्ता परिवर्तन के साथ ही इंटेलिजेंस विभाग की और से 2 ट्रक भर सरकारी फ़ाइलो को गुपचुप तरीके से जलाने का मामला सामने आया है। प्रदेश भर से गुरुवार को इंटेलिजेंस के अफसरों ने सुबह अपने ऑफिस से दो ट्रक फाइलों का जखीरा रवाना किया। पूरी फाइलें अवंति विहार के खाली मैदान में डंप कर वहां जलाई गईं।

इस मामले को लेकर सवाल इसलिए भी खड़े हो रहे हैं क्योंकि अफसर पूरी फाइलें जलने तक वहीं खड़े थे। उन्होंने एक एक फाइल खुद आग में झोंकीं। फाइलें जलाने के मामले में अभी तक किसी भी अफसर की तरफ से कोई बयान नहीं आया हैं ।

Loading...

congress bjp 647 033117014707

इस पूरे मामले पर कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने पूछा कि सरकार के शपथग्रहण करने के पहले दस्तावेजों को क्यों जलाया गया? यदि दस्तावेज गैर जरूरी थे तो उसको नष्ट करने का काम आने वाली सरकार करती। वहीं छत्तीसगढ़ समाज पार्टी ने एफाईआर करने की मांग की है।

पार्टी के अध्यक्ष अनिल दुबे, लाला राम वर्मा सहित अन्य पदाधिकारियों पर आरोप लगाया कि 15 साल से विरोधी नेताओं संबंधित एवं झीराम घाटी नरसंहार के भ्रष्टाचार सहित अवैानिक कामों के आदेश की प्रतियां नई सरकार के गठन के पहले ही जला दी गई।

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें