उत्तरप्रदेश की राजधानी लखनऊ में प्रॉपर्टी डीलर व सर्राफा कारोबारी कन्हैया लाल रस्तोगी के ठिकानों पर आयकर विभाग टीम की मंगलवार को छापेमारी में अकूत संपति का खुलासा हुआ है। 36 घंटे की छापेमारी के दौरान रस्तोगी बंधु के पास से 100 किलो सोना और 10 करोड़ रुपये का कैश जब्त किया गया।

आयकर विभाग ने कन्हैयालाल रस्तोगी के 6 से ज्यादा ठिकानों पर छापेमारी की।  छापेमारी के दौरान यह भी खुलासा हुआ कि ‘रस्तोगी एंड संस’ के नाम से हवाला का कारोबार और सर्राफ का धंधा चलता है। ‘रस्तोगी बंधु’ के पुश्तैनी सूदखोरी के धंधे में 60 करोड़ रुपये से अधिक खपाए जाने का खुलासा भी हुआ।

आयकर विभाग के प्रवक्ता एवं डिप्टी कमिश्नर (जांच) जयनाथ वर्मा के मुताबिक कन्हैया लाल रस्तोगी और बेटे के घर से 8.08 करोड़ की नकदी एवं 87 किलो सोने के बिस्किट और दो किलो सोने के गहने बरामद हुए। जबकि संजय रस्तोगी के घर से 1.13 करोड़ रुपये एवं 11.64 किलो सोना बरामद हुआ।

इसमें से 8 करोड़ रुपये कन्हैया लाल रस्तोगी एवं 1.05 करोड़ रुपये संजय रस्तोगी के जब्त कर लिए गए। जबकि ‘रस्तोगी बंधु’ का सोना पूरा का पूरा जब्त कर लिया गया जिसकी कीमत करीब 31 करोड़ आंकी गई है। छापेमारी एक से दो दिन तक जारी रहने के संकेत हैं।

बता दें कि इससे पहले चेन्नै में आयकर विभाग ने कॉन्ट्रैक्टर के यहां छापे में 160 करोड़ नकद और सौ किलो सोना जब्त किया है। जो आयकर विभाग की देश की सबसे बड़ी कार्रवाई बताई जा रही है।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano