आयकर विभाग ने तमिलनाडु के थेनी लोकसभा क्षेत्र में टीटीवी दिनाकरण के ठिकानों पर छापा मारा। दिनाकरण के ठिकानों पर हुई 1.5 करोड़ रुपये बरामद किया गया है। यहां 18 अप्रैल को उपचुनाव के लिए मतदान होना है।

आयकर विभाग के अधिकारियों ने एनडीटीवी से बताया कि कैश के 94 पैकेट बरामद किए गए हैं, इनके साथ ङी वार्ड नंबर और वोटरों के नंबर भी वहां से मिले हैं। अधिकारियों ने दावा किया कि पैकेट्स पर 300 रुपये की मार्किंग थी और ये मतदाताओं को रिश्वत के तौर पर दिए जाने थे।

इस दौरान कार्रवाई का विरोध कर रहे टीटीवी दिनाकरण नेतृत्व वाले अन्नाद्रमुक गुट के कार्यकर्ताओं को तितर-बितर करने के लिए पुलिस को हवा में गोलियां चलानी पड़ीं। स्थिति को नियंत्रण में करने के लिए पुलिस को हवा में चार राउंड फायर करना पड़ा। पुलिस ने चार कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार करने के साथ ही 155 कार्यकर्ताओं के खिलाफ केस दर्ज किया है।

वरिष्ठ अधिकारी ने कहा,  बरामद किए गए लिफाफों पर वार्ड नंबर और मतदाताओं की संख्या लिखी हुई है इसके अलावा प्रत्येक लिफाफे पर 300 रुपए लिखे हुए हैं। छापे की कार्रवाई जारी है। आयकर विभाग ने बताया कि पार्टी में दफ्तर में पोस्टल बैलेट पेपर भी बरामद किए गए हैं। इस पर एएमएमके प्रत्याशी के पक्ष में निशान लगाया गया था। सभी पोस्टल बैलेट पेपर को सीज कर दिया गया है।

इससे पहले मंगलवार को ही डीएमके प्रत्याशी कनिमोझी के घर पर आयकर विभाग की टीम ने छापा मारा। यह छापा कनिमोझी के तूतीकोरिन के कुरिंची नगर वाले आवास पर पड़ा। इस दौरान कनिमोझी के घर से आयकर विभाग को न कोई कैश और न ही कोई दस्तावेज मिले।

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें