दिल्ली के जामा मस्जिद के शाही इमाम अहमद बुखारी ने यूपी विधानसभा चुनाव में बीएसपी को समर्थन दिया हैं. उन्होंने समाजवादी पार्टी पर मुसलमानो को धोखा देने का आरोप लगाते हुए कहा कि प्रदेश के मुसलमान अपने वोट न बटने दें और एकजुट होकर बहुजन समाज पार्टी के पक्ष में मतदान करे.

एक निजी न्यूज चैनल से बातचीत में इमाम बुखारी ने समाजवादी पार्टी पर वादाखिलाफी का आरोप लगाते हुए कहा कि अखिलेश सरकार ने पांच साल में मुसलमानों को क्या दिया. उन्होंने कहा सपा के शासन में  मुसलमानों का सिर्फ शोषण हुआ और उनके साथ नाइंसाफी ही हुई है, लिहाजा इस बार चुनाव में वह बसपा का समर्थन करेंगे.

2012 विधानसभा चुनाव में सपा का समर्थन करने वाले बुखारी ने कहा कि पिछले पांच वर्षों में अखिलेश यादव के शासन में मुसलमानों के अधिकारों का हनन हुआ और उन्हें मुजफ्फरनगर, मथुरा और गाजियाबाद जिलों में हुए खूनी दंगों समेत पूरे प्रदेश में 400 से ज्यादा साम्प्रदायिक फसाद की वारदात सहन करनी पडीं. इसके अलावा दादरी में मोहम्मद अखलाक और प्रतापगढ़ में पुलिस उपाधीक्षक जिया उल हक की हत्या कर दी गई.

इमाम बुखारी ने आरोप लगाया था कि 2012 विधानसभा चुनाव से पहले मुलायम सिंह ने उनका समर्थन लिया और मुस्लिमों को 18 प्रतिशत आरक्षण दिलाने जैसे कई वादे किए, लेकिन एसपी सरकार ने वादाखिलाफी की है.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें