Thursday, September 23, 2021

 

 

 

CBI छापे पर IAS चंद्रकला ने तोड़ी चुप्पी, शायराना अंदाज में दिया कुछ यह जवाब

- Advertisement -
- Advertisement -

खनन घोटाले के मामले में सीबीआई की कार्यवाही का सामना कर रही IAS चंद्रकला ने आखिर अपनी चुप्पी तोड़ ही दी। सोशल मीडिया पर हमेशा सक्रिय रहने वाली IAS चंद्रकला ने शायराना अंदाज में इस पूरे मामले को राजनीतिक बताया।

Linkedin प्रोफोइल में स्‍वरचित कविता पोस्‍ट करते हुए उन्होने लिखा, “चुनावी  छापा तो पड़ता रहेगा, लेकिन जीवन के रंग को क्यों फीका किया जाए दोस्तों। आप सब से गुजारिश है कि मुसीबतें कैसी भी हो, जीवन की डोर को बेरंग ना छोड़ें।”

आईएएस बी. चंद्रकला ने जो कविता पोस्‍ट की है वो कुछ इस तरह है:

रे रंगरेज़ !  तू रंग  दे मुझको ।।

रे रंगरेज़ तू रंग दे मुझको  ,
फलक से रंग, या मुझे  रंग दे जमीं  से ,
रे रंगरेज़! तू रंग दे कहीं से ।। 

छन-छन  करती पायल से ,
जो फूटी हैं  यौवन के स्वर ;

लाल से रंग मेरी होंठ की कलियाँ, 
नयनों को रंग, जैसे चमके बिजुरिया, 
गाल पे हो, ज्यों  चाँदनी  बिखरी ,
माथे पर फैली  ऊषा-किरण ,

रे रंगरेज़ तू रंग दे मुझको, 
यहाँ  से रंग, या मुझे रंग दे,  वहीं से  ,
रे रंगरेज़ तू रंग दे,  कहीं से  ।।

कमर को रंग, जैसे, छलकी गगरिया  ,
उर,,,उठी हो,  जैसे चढ़ती उमिरिया  ,
अंग-अंग रंग, जैसे, आसमान पर ,
घन उमर उठी हो बन, स्वर्ण नगरिया  ।।

रे रंगरेज़ ! तू रंग दे मुझको,
सांस-सांस  रंग, सांस-सांस  रख,
तुला बनी हो ज्यों , बाँके बिहरिया , 

रे रंगरेज़ ! तू रंग दे मुझको ।।

पग- रज ज्यों, गोधुली बिखरी हो,
छन-छन करती  नुपूर  बजी हो,
फाग के आग से उठती सरगम,
ज्यों मकरंद सी महक उड़ी हो ।।

रे रंगरेज़ तू रंग दे मुझको  ,
खुदा सा रंग , या मुझे रंग दे  हमीं से ,
रे रंगरेज़ तू रंग दे , कहीं से ।।

पलक हो,  जैसे  बावड़ी वीणा,
कपोल को चूमे, लट का नगीना,
तपती जमीं  सा मन को रंग दे,
रोम-रोम तेरी चाहूँ  पीना ।।

रे रंगरेज़ तू रंग दे मुझको,
बरस-बरस मैं चाहूँ जीना ।। :: बी  चंद्रकला  ,,आई ए एस ।।
,,चुनावी  छापा तो पडता रहेगा ,,लेकिन जीवन के रंग को क्यों  फीका किया जाय ,,दोस्तों  ।
आप सब से  गुजारिश है कि  मुसीबते  कैसी भी हो , जीवन की डोर को बेरंग ना छोडे ।।

बता दें कि अवैध खनन मामले को लेकर सीबीआई ने पांच जनवरी को चंद्रकला के ठिकानों पर छापेमारी की थी। सीबीआई ने चंद्रकला के लखनऊ स्थित घर पर करीब दो घंटे तक छापेमारी की। समाजवादी पार्टी सरकार के पूरे पांच साल के कार्यकाल के दौरान चंद्रकला बुलंदशहर, हमीरपुर, मथुरा, मेरठ और बिजनौर की डीएम रहीं हैं। चंद्रकला पर गतल तरीके से खनन पट्टे जारी करने का आरोप है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles