jayeshh

गुजरात के नडियाद में गुरुवार को एक शख्स 80 हजार रुपये की रकम सिक्कों के रूप में लेकर पहुंचा। जिसको गिनने में वकीलों के पसीने छुट गए।

जानकारी के अनुसार, नडियाद की फैमिली कोर्ट ने जयेश को गुजारा भत्ते के तौर पर पत्‍नी को 1 लाख 6 हजार रुपये देना था। जिसकी पहली किश्‍त के तौर पर जयेश 26 हजार रुपये दे चुका था। लेकिन गुरुवार को दूसरी किस्‍त की बारी थी, जो 80 हजार रुपये की थी।

पेशे से सब्जी बेचने का काम करने वाला जयेश एक बोरी सिक्‍के लेकर कोर्ट पहुंचा। जैसे ही कोर्ट रूम में बोरी खोली तो जज और वकील हजारों सिक्‍के देख दंग रह गए। जज ने पूछा कि ये कितने रुपये हैं, तो जवाब मिला 80 हजार रुपये के। सिक्‍कों से भरी बोरी लाने वाले जयेश तलपदा ने कहा, ‘हुजूर सब्‍जी वाला हूं। मुझे तो सिक्‍के ही मिलते हैं।’

जयेश ने कोर्ट में बताया कि इतने सिक्कों को नोट में बदलने के कोई जल्‍दी तैयार नहीं होता, इसलिए वह इनके जरिए ही गुजारा भत्ते की रकम चुका रहा है। इसके बाद सिक्‍कों को गिनना भी जरूरी था।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, एक, दो, पांच और दस रुपये के इन सिक्‍कों को गिनने में वकीलों को 3 घंटों का समय लगा। सिक्‍कों को दो चरणों में गिना गया। जयेश ने भी पिछली दफा गुजारा भत्ते की पहली किस्‍त यानी 26 हजार रुपये भी सिक्‍कों के रूप में ही अदा की थी।

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें