बोडोलैंड टेरिटोरियल काउंसिल (BTC) के चुनावों से पहले, सुरक्षा बलों ने शनिवार को असम के कोकराझार जिले में बड़ी संख्या में AK राइफलों सहित भारी मात्रा में अवैध हथियार बरामद किए।

हथियार शनिवार को कोकराझार जिले के गोसाईगांव पुलिस स्टेशन में आने वाले रिपु आरक्षित वन के जंगल क्षेत्र से बरामद किए गए। खुफिया इनपुट के आधार पर, कोकराझार जिला पुलिस, CRPF, सशस्त्र सीमा बल (SSB) की 31 वीं बटालियन और भारतीय सेना ने शुक्रवार को मिलकर सोरीबिल बॉर्डर आउटपोस्ट के सुंदरी नाला से लगभग 300 मीटर दूर रिपु आरक्षित वन के जंगल क्षेत्रों में संयुक्त रूप से एक ऑपरेशन शुरू किया था।

ऑपरेशन के दौरान, सुरक्षा बलों ने भारी मात्रा में हथियार, गोला-बारूद, विस्फोटक बरामद किए थे, जिन्हें घने वन क्षेत्र में जमीन में छुपा कर रखा गया था। कोकराझार जिले के पुलिस अधीक्षक (एसपी) राकेश रौशन ने कहा कि, गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस, एसएसबी, सीआरपीएफ और भारतीय सेना ने संयुक्त रूप से रिपु रिजर्व जंगल में जंगल के इलाके में एक अभियान चलाया था।

राकेश रौशन ने कहा, ‘हमने ऑपरेशन के दौरान भारी मात्रा में हथियार और गोला-बारूद बरामद किया था।’ कोकराझार जिला बोडोलैंड टेरिटोरियल एरिया डिस्ट्रिक्ट्स (BTAD) के अंतर्गत है और BTC चुनाव 7 और 10 दिसंबर को दो चरणों में होंगे।

कोकराझार की यात्रा के दौरान पत्रकारों से बात करते हुए डीजीपी भास्कर ज्योति महंत ने बताया कि असम पुलिस प्रशासन “स्वतंत्र और निष्पक्ष वातावरण” के साथ बीटीसी परिषद चुनाव कराने के लिए पूरी तरह से तैयार है। उन्होंने बताया कि चुनाव के सुचारू संचालन के लिए बीटीसी परिषद चुनाव के दौरान अर्धसैनिक बलों की कुल 30 कंपनियोंको बीटीसी में तैनात किया गया है।