Thursday, October 28, 2021

 

 

 

योगी के मंत्री ने विरोध के बाद भी जबरन घरों पर रंगाया भगवा, हुई एफ़आईआर दर्ज

- Advertisement -
- Advertisement -

उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री नंद गोपाल नंदी ने अपने आसपास के सभी इलाको के घरों को भगवा रंग में रंगवा दिया। इसके साथ ही इन घरों पर देवी-देवताओं की तस्वीरें बनाई जा रही है। इस बात को लेकर अब विवाद हो गया है।

दरअसल, कुछ लोगों ने घरों की दीवारों को भगवा किए जाने का विरोध किया। जिसके बाद मंत्री के मौसेरे भाई और उनके साथियों ने इन लोगों को धमकाया और उनके घरों को जबरन भगवा रंग में रंग दिया। मामले में बहादुरगंज निवासी रवि गुप्ता और इलाके के रिटायर्ड पशु चिकित्सक ने मंत्री के रिश्तेदार और अज्ञात लोगों के खिलाफ कोतवाली में शिकायत की। पुलिस ने मामले में नामजद और अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करके मामले की जांच शुरू कर दी है।

इस पूरे मामले में कैबिनेट मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी का कहना है कि इलाके का विकास और सौन्दर्यीकरण किया जा रहा है, जिसका कुछ लोग राजनैतिक लाभ लेने के लिए जबरन विरोध करे रहे हैं।

एफआईआर के मुताबिक 12 जुलाई की सुबह 4 बजे कमल कुमार केसरवानी उर्फ लाला अपने साथ 10-20 लोगों को लेकर उनके घर पर आया और उनके घर के सामने वाले हिस्से को भ्रगवा रंग से रंगने लगा। जब उन्होंने विरोध किया तो गाली दी और धमकाने लगा। उनके घर पर पथराव भी किया। बीचबचाव करने जब उनकी पत्नी आईं तो उन्हें भी धमकाया। आरोप लगाया कि लाला इससे पूर्व भी उन पर जानलेवा हमला कर चुका है।

कांग्रेस और समाजवादी पार्टी के नेता ने इसे मंत्री की तानाशाही बताया। सपा नेता का आरोप है कि कैबिनेट मंत्री और महापौर की वजह से पूरे इलाके को एक ही रंग में रंगा जा रहा है। मंत्री के रुतबे और डर की वजह से लोग खुलकर विरोध नहीं कर पा रहे हैं। कांग्रेस नेता ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि इस सरकार में मानवाधिकारों का खुलेआम हनन हो रहा है। कैबिनेट मंत्री अपने घर के आसपास रहने वालों के साथ गुलामों जैसा बर्ताव कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles