राजस्थान के कोटा के रामगंज मंडी में आरएसएस कार्यकर्ता को दिन-दहाड़े एक हिस्ट्रीशीटर ने गोली मारकर गंभीर रूप से घायल कर दिया। कस्बे के कोटा स्टोन व्यापारी और आरएसएस के जिला संघचालक दीपक शाह पर 3 बदमाशों ने पुरानी रंजिश के कारण जानलेवा हमला किया।

जानकारी के अनुसार, दीपक शाह को दोनों पैरों में गोली लगी है और कोटा एमबीएस अस्पताल में उपचार चल रहा है। उनकी हालत स्थिर बताई जा रही है। बताया जा रहा है कि दीपक शाह राममंदिर निधि संग्रह अभियान में जुडे़ हुए हैं। घटना के विरोध में रामगंजमंडी कस्बा को बुधवार को बंद रखने की घोषणा की है।

सूत्रों के मुताबिक सप्ताह भर पहले रामगंजमंडी क्षेत्र के हिस्ट्रीशीटर से दीपक शाह का किसी बात को लेकर झगड़ा हुआ था। बताया जा रहा है कि जब दीपक चाहा कस्बे के शाहजी चौराहे पर मौजूद थे। मोटरसाइकिल पर तीन बदमाश आए और दीपक शाह पर उन्होंने बंदूक से फायर किया।

फायर की गई गोलियां दीपक शाह के दोनों पैरों पर लगी। इसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया। चावड़ा और सुफियान को घटनास्थल पर लोगों ने पकड़ लिया था। उन्हें रात को ही पुलिस के हवाले किया है। लेकिन पुलिस ने इसकी पुष्टि नहीं की। वहीं मुख्य आरोपी आशु पाया मौके से फरार हो गया। जिसको रात तक पुलिस तलाश रही थी।