केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद के बयांन पर पलटवार करते हुए यूपी में समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता आज़म खान ने कहा कि जो पार्टी वोट नहीं मिलने पर हिंदू को हिंदू नही मानती है. क्या वो मुसलमानों का ख्याल रख सकती हैं.

उन्होंने कहा कि देश के नागरिको की देखभाल करना सरकारों की ज़िम्मेदारी होती है. आज़म खान ने कहा कि विचारधारा और संविधान दो अलग अलग चीज़े है.जो बीजेपी को वोट नहीं देते है उनको एंटी बीजेपी कहा जा सकता है जो विपक्ष को वोट नहीं दिए उनको भी एंटी विपक्ष कहाँ जा सकता है लेकिन ये तो सरकार की ज़िम्मेदारी है कि हर एक का ख्याल रखे.

गौरतलब रहें कि रविशंकर प्रसाद ने देश के मुसलामानों को निशाने पर लेते हुए कहा कि मुसलमान बीजेपी को वोट नहीं देते लेकिन फिर भी मोदी सरकार ने उन्हें पूरा सम्मान दिया हैं.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने कहा, ”हमें कभी मुस्लिम वोट नहीं मिलते. हम इस बात को पूरी स्पष्टता से स्वीकार करते हैं लेकिन हमने उन्हें पूरी पवित्रता से स्वीकार किया है या नहीं ? बीजेपी के 13 मुख्यमंत्री हैं. हम देश पर शासन कर रहे हैं, क्या हमने किसी नौकरीपेशा या व्यापार करने वाले सज्जन मुसलमान को प्रताड़ित किया है ? क्या हमने उन्हें काम से हटाया है?”

Loading...