ritu

किसी शख्स के लिए चर्च में बजाया हुआ गिटार इतना भारी पड़ेगा कि उससे उसकी शादी रुक जायेगी और उसे साबित करना पड़ेगा कि वह धर्म से हिन्दू ही हैं. उसका ईसाई धर्म से कोई वास्ता नहीं हैं. ऐसा हुआ हैं भोपाल में 28 वर्षीय विशाल मित्र के साथ.

दरअसल, विशाल जो कि पेशे से इक बिल्डिंग फर्म में मैनेजर हैं. वे 27 वर्षीय रितु दूबे जो कि पंजाब नेशनल बैंक में प्रोबेशनरी ऑफिसर हैं, से शादी करने के लिए मजिस्ट्रेट ऑफिस पहुंचे थे. इस शादी के बारें में पता लगते ही वीएचपी कार्यकर्ता वहां पहुँच गये और शादी के रजिस्ट्रेशन को रोक दिया.

वीएचपी कार्यकर्ताओं ने दलील दी कि विशाल मित्र धर्म से ईसाई हैं जबकि रितु दूबे भी इसाई हो चुकी हैं. लेकिन विशाल और रितु दोनों का कहना है कि वह पूरी तरह से हिंदू धर्म पर आस्था रखते हैं. वीएचपी कार्यकर्ता ने विशाल पर आरोप लगाते हुए कहा कि सन 2013 में विशाल ने भोपाल के चर्च में एक कार्यक्रम के दौरान गिटार बजाया था.

इसी के साथ आगे कहा कि  विशाल से मुलाकात के बाद से रितु ने हिंदू महिलाओं की तरह माथे पर बिंदि लगाना बंद कर दिया है और हिंदु देवी देवताओं की वंदना करना भी बंद कर दिया है. इससे साफ है कि रितु वैचारिक रूप से धर्म परिवर्तन कर चुकी हैं.

दरअसल रितू के परिजन विशाल के साथ उसकी शादी नहीं होने देना चाहते थे. दो दिन पहले ही उन्होंने रितु और विशाल के साथ कलेक्टर परिसर में मारपीट की थी.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें