आईएएस अफसर वीरेंद्र कुंडू की बेटी वर्णिका कूंड से छेड़छाड़ और किडनैपिंग की कोशिश के मामले में हरियाणा बीजेपी के अध्यक्ष के बेटे विकास बराला और उसके दोस्त को कोर्ट से जमानत नहीं मिली है.

 इस मामले की सुनवाई एडिशनल चीफ ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट बलजिंदर पाल सिंह की अदालत में चल रही है. सुभाष बराला के बेटे विकास बराला और उसके दोस्त आशीष को पुलिस ने 5 अगस्त को गिरफ्तार किया था.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

आराेपियों की बेल पिटीशन पर कोर्ट ने पुलिस का जवाब मांगा था. जिस पर पुलिस की ओर से सरकारी वकील ने पंचकूला हिंसा का हवाला देकर कुछ वक्त देने की मांग की थी. जिसे कोर्ट ने स्वीकार लिया.

गौरतलब है कि कि चार अगस्त को विकास और उसके साथी ने शराब के नशे में कार से वर्णिका की कार का पीछा लिया था. पीड़िता के अनुसार दोनों की मंशा उसके साथ गलत हरकत की थी. लेकिन पुलिस ने मौके पर पहुंचकर उसे बचा लिया था.

पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 354D, 341 और 34 के तहत केस दर्ज कर जमनात दे दी थी. लेकिन बाद में 365 और 511 दो गैर जमानती धाराओं को भी जोड़ा गया.

Loading...