hard

किसानों की कर्जमाफी की मांग को लेकर पिछले 14 दिनों से अनशन कर रहे पाटीदार नेता हार्दिक पटेल को तबीयत बिगड़ने के बाद शुक्रवार को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उन्हे अहमदाबाद के सोल सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अस्पताल के बाहर बड़ी संख्या में पुलिस टीम की तैनाती की गई है।

इससे पहले हार्दिक पटेल ने बीजेपी पर तीखा हमला किया। हार्दिक ने कहा है कि अगर मेरी मौत भी हो जाएगी तो बीजेपी को क्या फर्क पड़ेगा?  हार्दिक ने कहा कि अब तक बीजेपी की तरफ से कोई बात नहीं की गई है। कोई बात नहीं, चुनाव भी आ रहा है।

उन्होने ट्वीट किया, ”गोधरा कांड के गुंडे गुजरात के भाजपा वाले मैं मर जाऊं उनको क्या फर्क पड़ेगा,हजारों लोगों की हत्या करके तो सत्ता प्राप्त की है।13 दिन के अनशन के बाद भी भाजपा वालों ने अभी तक किसानों एवं सबसे बड़े पटेल समुदाय के बारे कुछ सोचा भी नहीं है और बोले भी नहीं।कोई बात नहीं चुनाव भी आ रहा है”

इसी बीच बताया जा रहा है कि आज शाम को सीएम आवास पर मुख्यमंत्री रूपाणी, तीन वरिष्ठ मंत्री नरेश पटेल व अन्य पाटीदार नेताओं के साथ वार्ता करेंगे। 25 अगस्त से अनशन पर बैठे हार्दिक पटेल ने सरकार के सामने तीन मांगे रखी हैं। वो पटेलों के लिए आरक्षण, गुजरात के किसानों के लिए लोन की माफ़ी और अल्पेश कठेरिया को रिहा करने की मांग कर रहे हैं।

बता दें कि बुधवार को हार्दिक ने ने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा था कि अगर 24 घंटे में बीजेपी ने उनकी मांगों को लेकर बात नहीं की, तो वह जल भी त्‍याग देंगे। इसके बाद उन्‍होंने गुरुवार की शाम से पानी पीना भी बंद कर दिया।

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें