kasim

उत्तर प्रदेश के हापुड़ जिले के पिलखुआ में बीते दिनों कथित ‘गोकशी’ के आरोप में कासिम नामक शख्स को पीट-पीटकर हत्या के मामले मे यूपी पुलिस का रवैया शक के घेरे मे है।

बता दें कि मंगलवार दोपहर को बझैड़ा खुर्द गांव मे  25 से 30 युवाओं ने दो लोगों कासिम और समयदीन को गोकशी का आरोप लगाकर जमकर पीटा, जिसमें कासिम निवासी सादिकपुरा की मौत हो गई, जबकि समयदीन निवासी मदापुर घायल हो गया था।

पति की मौत पर कासिम की पत्नी का कहना है कि उसके पति सोमवार की सुबह रुपये लेकर पशु खरीदने के लिए गए थे, लेकिन दोपहर बाद उन्हें सूचना मिली कि गौकशी का आरोप लगाकर ग्रामीणों ने उन्हें पीट-पीट कर अधमरा कर दिया है और पुलिस ने उन्हें अस्पताल में भर्ती करवाया है। वह आनन-फानन में अस्पताल पहुंची, तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। वह बोलीं, ‘शक में मेरे पति की जान चली गई, वह ऐसे नहीं थे।’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इस घटना का एक विडियो वॉट्सऐप पर शेयर हो रहा है। ये उस दौरान का है, जब कासिम को पीटा जा चुका था और वो खेत में तड़पते हुए पानी मांग रहे थे। उस समय वहां खड़े लोग उन्हें और पीटना चाहते थे लेकिन एक शख्स रोकते हुए कह रहा है कि, ‘हो गया, तुमने मार लिया, पीट लिया, बहुत हो गया। लेकिन समझो बात को।’

हालांकि यूपी पुलिस इस पूरे मामले को रोडरेज़ का मामला बता रही है। पुलिस का कहना है कि गौकशी की अफवाह गलत थी। यह माहौल बिगाड़ने की साजिश थी, जिसे पुलिस ने नाकाम कर दिया। हालांकि पुलिस के दावों के उलट परिवार का दावे को हिंसा के बाद जारी एक वायरल वीडियो से पुष्टि होती है।

एक मिनट के वीडियो में कसीम मैदान में लेटा हुआ है और उसके कपड़े फटे हुए हैं। वह दर्द की वजह से चिल्‍ला रहा है और हमलावरों से पीछे हटने और पानी देने को कह रहा है। इस वीडियो में सुनाई दे रहा है एक आदमी हमलावरों से कह रहा है, तुमने उसे मारा है, उस पर हमला किया है, अब बस करो, कृपया समझो इसके क्‍या परिणाम होंगे

वहीं एक और आवाज सुनाई देती है जिसमें एक शख्‍स कह रहा है कि अगर हम दो मिनट के भीतर नहीं पहुंचते, तो गाय को कत्ल कर दिया गया। वहीं तीसरा आदमी क्‍या रहा है, वह एक कसाई है। कोई उससे पूछता है कि वह एक बछड़े को मारने की कोशिश क्यों कर रहा था? वहीं कसीम जमीन पर गिरा हुआ है और भीड़ से कोई शख्‍स उसे पानी नहीं देता है।

Loading...