guru

हरियाणा के गुरुग्राम में जुम्में की नमाज को खुले माँ अदा करने पर हिन्दुत्ववादी संगठनों की गुंडागर्दी के बाद अब रमजान के पहले जुम्में की नमाज कड़ी पुलिस सुरक्षा में अदा कराई गई.

रमजान के पहले जुमे की नमाज शहर में 47 जगहों पर पढ़ी गई. इनमें 23 जगह पुलिस की ओर से तय की गई थीं. 24 जगहें मुस्लिम समुदाय के पहले से ही तय हैं जहां वे नमाज पढ़ते आ रहे हैं.

इस दौरान जिला प्रशासन ने 76 ड्यूटी मजिस्ट्रेट तैनात किए गए. साथ ही नमाज के लिए चिन्हित स्थानों पर भारी पुलिस बल की व्यव्स्था की गई. पुलिस की मौजूदगी की वजह से हिन्दुत्ववादी संगठनों की गुंडागर्दी देखने को नहीं मिली.

हालंकि भोड़ाकलां गांव की मस्जिद में मौलाना रखने पर विवाद जरुर देखने को मिला. दरअसल, 11 मई को नमाज के दौरान हिन्दुत्ववादियों ने मौलाना को नमाज नहीं पढ़ाने दी थी. मामले को लेकर डीसीपी मानेसर महेंद्र सेठी ने भी दोनों समुदाय के लोगों के साथ बातचीत कर इसे सुलझाने का प्रयास किया है.

gurugram namaz 620x400

मुस्लिम समुदाय के युवक शकील ने बताया कि शुक्रवार को उन्होंने सीपी संदीप खिरवार को भी इस मामले से अवगत करा मदद की गुहार लगाई है. उन्होंने मदद का भरोसा दिया है. गुड़गांव मुस्लिम एकता मंच के चेयरमैन हाजी सज्जान खान ने बताया कि शहर में हालात सामान्य हो गए हैं. सभी के सहयोग व आपसी भाईचारे से यह संभव हुआ.

उन्होंने कहा, सिर्फ भोड़ाकलां में मौलाना न रखने देने को लेकर विवाद है. इसके लिए हम प्रशासन व पुलिस की मदद से बातचीत से मामला सुलझाने का प्रयास कर रहे हैं. उम्मीद है यह मसला भी जल्द निपट जाएगा.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?