gurugrame

हरियाणा के गुरुग्राम में मुस्लिम युवक को पाकिस्तानी बताकर जबरन दाड़ी काटने के मामले में पीड़ित जफरुद्दीन का आरोप है कि सिर्फ नाई को गिरफ्तार कर पुलिस केस को कमजोर करना चाहती है। जफरुद्दीन का कहना है कि इस नस्लवादी हमले में दो अन्य लोग भी शामिल थे।

नूंह जिले के बादली गांव के रहने वाले जफरुद्दीन गुरुग्राम सेक्टर-29 में ढाबा चलाते है। जफरुद्दीन का आरोप है कि पिछले दिनों वो नाई की दुकान पर बाल कटवाने गया था। दो युवक उन्हे स्तानी बताते हुए उनकी दाढ़ी पर कमेंट करने लगे और उसे दाढ़ी कटवाने के लिए कहने लगे। जब उन्होने दाढ़ी कटवाने से इनकार किया तो दोनों युवकों ने जबरदस्ती उस कुर्सी पर बैठा दिया और बांध दिया। फिर जफरुद्दीन की दाढ़ी काट दी गई।

वहीं नाई अख़लाख का कहना है कि दाढ़ी नहीं काटने पर उसकी भी पिटाई की गई थी। बावजूद उसे भी गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने इस मामले में नाई समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

पुलिस ने मामले में गौरव, नितिन और अख़लाख़ को गिरफ्तार किया है। पीड़ित जफरुद्दीन ने पुलिस ने नाई अख़लाख़ को छोड़ने की अपील की है।

Loading...