beat

गुजरात के गीर-सोमनाथ जिले के ऊना में जातिसूचक टिप्‍पणी का विरोध करने पर तीन दलितों की पिटाई का मामला सामने आया है। इसी जिले में गौ रक्षकों द्वारा चार दलित युवकों की पिटाई करने की घटना के करीब दो वर्ष बाद यह घटना घटी है।

घटना 8 नवंबर की है। पुलिस के अनुसार, 27 वर्षीय मनु भाऊ सोलंकी उर्फ मुकेश ने ऊना थाने में शिकायत दर्ज कराई थी। मुकेश का आरोप था कि वह और उनके रिश्‍तेदार भरत सोलंकी अपने गांव लौट रहे थे, जब कथित तौर पर शराब के नशे में धुत चार लोगों ने उन्‍हें दलित होने को लेकर गालियां देनी शुरू कर दीं और जातिगत टिप्‍पणियां की।

जब इन्‍होंने विरोध किया तो आरोपियों ने लाठियों से पीटना शुरू कर दिया। बीच में एक ने चाकू भी निकाल लिया। मुकेश और भरत को बचाने पहुंचे उगा भाई सोलंकी को भी पीटा गया। मुकेश का आरोप है कि हमलावरों के पास जो लाठी थी, वह ‘पुलिस के पास होने वाली लाठी जैसी’ लग रही थी। हमले में, मुकेश के चेहरे पर चोटें आई हैं।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

पुलिस के अनुसार, शुक्रवार (9 नवंबर) को चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया। शनिवार को उन्‍हें अदालत के सामने पेश किया गया। पुलिस ने बताया कि तीनों का जूनागढ़ शहर के एक अस्पताल में इलाज जारी है।

जिला पुलिस अधीक्षक राहुल त्रिपाठी ने बताया कि चारों आरोपियों के खिलाफ भादंवि की विभिन्न धाराओं और अनुसूचित जनजाति (अत्याचार रोकथाम) अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है।

Loading...