girlspolicestation

girlspolicestation

प्रधानमंत्री मोदी की “बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ” योजना से तो हर कोई वाकिफ है पर क्या सच में भारत में रहने वाली बेटियों की इज्ज़त की जा रही है. आज पीएम मोदी के ग्रह राज्य का एक ऐसा हैरान करने वाला मामला सामने आया है. यह मामला गुजरात का है जहाँ गुजरात पुलिस की दरिंदगी देख आप भी हैरान रह जाएँगे. यहाँ लड़कियों को बचाने की बात कही जाती है लेकिन यहाँ मामला उल्टा ही नज़र आ रहा है.

पेश है गुजरात से सय्यद इरफ़ान सफीर की रिपोर्ट-

दरअसल गुजरात में पुलिस कर्मियों द्वारा “बेगुनाह” लड़कियों को बेरहमी से पीटा गया, उनके कपड़े तक फाड़े गए. गुजरात में कुछ लड़कियों को एक लड़के ने छेड़ा तो लड़कियां मामले की शिकायत दर्ज कराने स्थानीय पुलिस स्टेशन  पहुंची वहां लड़कियों के साथ उनका परिचित भी उनके साथ पुलिस स्टेशन पहुंचा. पुलिस स्टेशन में लड़कियों को छेड़खानी करने वाला लड़का भी मौजूद था लेकिन गुजरात पुलिस पर आरोप लगाया गया है कि उन्होंने लड़के से रिश्वत लेकर उसे तो छोड़ दिया और लड़कियों के पक्ष में आए लड़के को गिरफ्तार कर लिया.

यह लडकियां पुलिस स्टेशन अपनी शिकायत दर्ज कराने गयी थी लेकिन पुलिस वालों ने इन ही के साथ हाथापाई शुरू कर दी.

इस पूरी वारदात को मोबाइल के कैमरे में कैद कर इसकी विडियो बनाई गई. पुलिस स्टेशन में भी यह मार पीट का सिलसिला जारी रहा है. जहाँ पुलिसकर्मी ज़बरदस्ती लड़कियों को जेल में बंद करने की कोशिश करते नज़र आए. यहाँ पुरुष और महिला पुलिस कर्मी थे और दोनों ही लड़कियों के साथ झड़प कर रहे थे. लडकियां खुद को बचाने के लिए चिल्लाई लेकिन उनकी एक ना सुनी गयी और उनके साथ मार पीट होती रही.

अब देखिए इस वारदात की पूरी विडियो-

कोहराम न्यूज़ को सुचारू रूप से चलाने के लिए मदद की ज़रूरत है, डोनेशन देकर मदद करें




Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें