jigne

jigne

गुजरात के दलित नेता जिग्नेश मेवाणी भी आगामी विधानसभा चुनाव में अपनी किस्मत आजमाने जा रहे है. उन्होंने निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ने का ऐलान किया है.

ट्वीटर पर इस बारे में जानकारी देते हुए उन्होंने ट्वीट किया कि ‘दोस्तों, मैं बनासकांठा जिले के सीट नंबर 11 वडगाम से निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर चुनाव लडूंगा. हम लडेंगे, हम जीतेंगे.’

ध्यान रहे बनासकांठा जिले की वडगाम सीट से अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित सीट है. इस सीट पर कांग्रेस ने अभी तक अपने उम्मदीवार का ऐलान नहीं किया. ऐसे में मेवाणी के चुनाव लड़ने से बीजेपी के दलित वोट बैंक में सेंध लग सकती है.

उन्होंने अपने फेसबुक वॉल पर लिखा, ‘मैं निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में वडगाम निर्वाचन क्षेत्र से गुजरात विधानसभा का चुनाव लड़ूंगा. पिछले कुछ महीनों से, खास तौर पर चुनाव की घोषणा होने के बाद अनगिनत आंदोलनकारी साथियों का और युवा वर्ग का न केवल यह अनुरोध था, बल्कि यह इच्‍छा थी कि हम इस बार जमकर चुनाव लड़ें और फासीवादी भाजपा के सामने सड़कों के साथ-साथ चुनाव में भी मुकाबला करें.

उन्होंने कहा, ‘भाजपा हमारी सबसे बड़ी दुश्‍मन है, इसलिए भाजपा को छोड़कर कोई भी राजनीतिक दल (या निर्दलीय प्रत्याशी) हमारे सामने अपना उम्मीदवार खड़ा ना करे. यह हमारा अनुरोध है। लड़ाई सीधी हमारे और भाजपा के बीच में होने दें. पिछले 22 साल से गुजरात में जो तानाशाही चल रही है, उसके सामने ऊना से लेकर अब तक हमने जो संघर्ष किया है, जो माहौल बनाया है, उससे न केवल गुजरात, लेकिन पूरे देश की जनता वाकिफ है.’

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?