gujarat-dalit-protest

उना कांड के बाद से ही गुजरात में दलितों का सरकार के प्रति गुस्सा थमने का नाम नहीं ले रहा हैं. अब दलितों ने राज्य सरकार के खिलाफ जमीन की मांग को लेकर विरोध-प्रदर्शन शुरू कर दिया हैं. लेकीन प्रदर्शन के दौरान उस वक्त हंगामा मच गया जब तीन दलित प्रदर्शनकारियों ने आत्महत्या की करने की कोशिश की.

प्राप्त जानकारी के अनुसार सोमवार को जूनागढ़ कलक्टर के बाहर भूमिहीन दलितों ने जमीन की मांग को लेकर धरना दे रखा था. इस दौरान पर्वतभाई परमार (52), चंदुभाई परमार (39) और जिग्नेश परमार (25 ने खुदकुशी की कोशिश करते हुए जहर पी लिया.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

जूनागढ़ सी-डिवीजन पुलिस स्टेशन के एक पुलिस अधिकारी ने बताया, ”तीनों जूनागढ़ जिले के मंगरोल तहसील के सांडा गांव के रहने वाले हैं. उन्होंने जमीन मसले को तुरंत सुलझाने की मांग की और जहर पी लिया.” इस मामलें में पुलिस ने  40 दलितों को हिरासत में ले लिया.

प्रदर्शनकारी दलित कार्यकर्ता सुबोध परमार ने कहा, ”हमने अपनी योजना के मुताबिक प्रदर्शन किया, क्योंकि सरकार ने हमारी मांगें पूरी नहीं की. हमने एक घंटे से ज्यादा समय तक सड़क जाम रखा.”

Loading...