gujr

गुजरात में आज पुलिस कांस्टेबल के पद के लिए होने वाली “लोकरक्षक भर्ती दल” परीक्षा को रद्द कर दिया गया है। दरअसल परीक्षा के पेपर लीक हो गए थे। जिसके बाद गुजरात डीजीपी शिवानंद झा ने परीक्षा रद्द करवा दी। इस मामले में दो भाजपा नेता और एक पुलिसकर्मी को गिरफ्तार किया गया है।

पुलिस के अनुसार, आरोपियों की पहचान सब इंस्पेक्टर पीवी पटेल, भाजपा सदस्य मुकेश चौधरी और मनहार पटेल के रूप में की गई है। एक अन्य आरोपी रुपल शर्मा के रूप में हुई है। इसके अलावा पुलिस पांचवे आरोपी यशपाल सोलंकी को अभी गिरफ्तार नहीं कर सकी है। वह वडोदरा नगर निगम का कर्मचारी बताया जाता है।

अधिकारियों ने बताया कि करीब आठ लाख 75 हजार उम्मीदवारों को अपराह्न तीन बजे शुरू होने वाली परीक्षा में बैठना था जो गुजरात के 2 हजार 440 केंद्र पर आयोजित की गई थी। लेकिन बोर्ड को पेपर शुरू होने से चंद मिनटों पहले पेपर लीक होने की जानकारी मिली।

bjp

बोर्ड के अध्यक्ष विकास सहाय का कहना है कि, ये पेपर कुछ असामाजिक तत्वों के जरिए वायरल किया गया है। इस तरह से पेपर लीक होने की वजह से बच्चों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा। परीक्षा रद्द होने पर विपक्षी कांग्रेस पार्टी ने भाजपा सरकार की आलोचना की।

कांग्रेस प्रवक्ता मनीष दोशी ने कहा, “भाजपा सरकार गुजरात के युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है। इस सरकार को सत्ता में रहने का कोई अधिकार नहीं है जो बिना भ्रष्टाचार में शामिल हुये एक परीक्षा भी नहीं करा सकती।”

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें