Friday, October 22, 2021

 

 

 

गुजरात: बाढ़ पीड़ितों के लिए चर्च का कार्यक्रम, भगवा संगठन आए विरोध में

- Advertisement -
- Advertisement -

केरल बाढ़ में जान गंवा चुके लोगों की प्रार्थना के लिए ईसाई समुदाय गुजरात में दो दिवसीय कार्यक्रम आयोजित करने जा रहा है। लेकिन विश्व हिंदू परिषद (VHP) जैसे स्थानीय हिंदू संगठन इस कार्यक्रम के विरोध में आ गए है।

हिन्दू संगठनों का कहना है कि स्थानीय चर्च पहले स्पष्ट करे कि आयोजन धर्मांतरण के लिए नहीं किया जा रहा। जिसके बाद कार्यक्रम के प्रतिनिधि ने कहा कि कार्यक्रम महज स्थानीय ईसाइयों की सभा के लिए है। इसमें उन लोगों के लिए प्रार्थनाएं की जाएंगी जो केरल बाढ़ में मारे गए।

जीजस मिशन चर्च के पादरी मुन्ना प्रसाद गुप्ता ने बताया कि कार्यक्रम के लिए बुकिंग करीब दो महीना पहले की गई थी। मगर मंगलवार को कुछ स्थानीय हिंदू संगठन के लोग कार्यक्रम स्थल पर प्रदर्शन करने लगे। विवाद बढ़ता देख हमने सभागार के मालिक को बुलाया और कार्यक्रम की डिटेल की जानकारी दी।

गुप्ता ने आगे बताया कि करीब 500 लोग कार्यक्रम में भाग लेंगे, इसमें पादरी एल्विन थोमस भाग लेंगे और लोगों को संबोधित करेंगे। कार्यक्रम की जानकारी हमने सभागार के मालिक को पहले ही दे दी थी।

chri

इंडियन एक्सप्रेस ने जब मनीनगर के श्री स्वामीनारायण गढ़ी संस्थान से संबंध रखने वाले स्वामी भागवत प्रियादास व सभागार के मालिक से संपर्क साधा तो उन्होंने बताया, ‘विश्व हिंदू परिषद और हिंदू मंच के प्रतिनिधि मुझसे शिकायत करने आए थे। उन्होंने कहा कि वो डरे हुए क्योंकि ईसाई कार्यक्रम में धर्मांतरण होगा।

मगर मैंने उन्हें बताया कि स्वामीनारायण भगवान ने खुले विचार रखने के लिए कहा है, कयोंकि हम सभी इंसान पहले हैं। मैंने उन्हें भरोसा दिलाया की कार्यक्रम में कोई धर्मांतरण नहीं होने जा रहा है।’ इसके अलावा गुजरात विहिप चीफ अशोक रावल ने मामले में प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि वो इस विरोध-प्रदर्शन का हिस्सा नहीं हैं। उन्होंने कहा कि ‘हम किसी भी कार्यक्रम के खिलाफ नहीं हो जो उनके कैंपस में हो रहे हैं।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles