गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर परिकर विधानसभा में बहुमत साबित कर दिया. 40 सदस्यों की विधानसभा में पर्रिकर ने 22 मत हासिल कर लिए. विश्वासमत जीतने के बाद पर्रिकर ने कहा कि उनके साथ 23 विधायक हैं और 22 ने मतदान उनके पक्ष में किया. उन्होंने कहा कि एक स्पीकर भी हमारी ओर से था जिन्होंने वोट नहीं किया.

कांग्रेस नेता विश्वजीत राणे ने वोटिंग का बहिष्कार कर सबको झटका दे दिया. उन्होंने वोटिंग के दौरान वॉक आउट कर लिया. राणे ने कांग्रेस पार्टी से भी इस्तीफा दे दिया. उन्होंने विधायकी और पार्टी की सदस्‍यता से इस्‍तीफा देने का भी ऐलान कर दिया है. माना जा रहा हैं कि राणे गोवा के राज्यपाल बन सकते हैं.

रक्षा मंत्री के पद से इस्तीफा देकर चौथी बार गोवा के मुख्यमंत्री बने 61 वर्षीय पर्रिकर को अपने गठबंधन के सहयोगियों गोवा फॉरवर्ड पार्टी (3), महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी (3), और निर्दलियों (3) का समर्थन मिला. राणे के इस्‍तीफे से खाली हुई सीट पर मुख्‍यमंत्री मनोहर पर्रिकर चुनाव लड़ सकते हैं.

वहीँ दूसरी तरफ पर्रिकर के मुख्यमंत्री बनने पर लोग ने उनके खिलाफ सड़क पर उतर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. सोशल मीडिया पर एक और वीडियों सामने आया है जिसमें लोग खुलेआम बीजेपी के गोवा में जीतने पर सवाल उठा रहे हैं.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?