गोमांस (बीफ) के क़ानूनी रूप से आयात में रुकावट डालने वाले गौरक्षकों को चेतावनी देते हुए गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने कहा कि ऐसे लोगों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी.

ध्यान रहे पर्रिकर का ये बयान राज्य में बीफ व्यापारियों की मंगलवार को अपनी चार दिन लंबी हड़ताल वापस लेने के बाद सामने आया है.  पर्रिकर ने कहा, ‘‘मैं यह देखूंगा कि अगर बीफ के कानूनी आयात में कोई बाधा पैदा करता है तो मैं यह सुनिश्चित करूंगा कि उसे दंडित किया जाए.”

मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने पुलिस से कानून को लेकर सख्त रहने को कहा है. उन्होंने कहा कि राज्य की सीमा पर पुलिस को उत्पाद (बीफ) से संबंधित कानूनी दस्तावेजों की जांच करनी चाहिए. उन्होंने कथित गो रक्षकों की ओर इशारा करते हुए कहा कि अगर सब सही है, तो किसी को दखलंदाजी का अधिकार नहीं है.

उन्होंने आगे कहा, “मैंने पुलिस को निर्देश दिए हैं कि वे सख्ती बरतें और कानून के मुताबिक चलें. अगर किसी के पास बीफ खरीदने के वैध कागज हैं तो उसे किसी भी हालत में रोका नहीं जा सकता.”

ध्यान रहे कर्नाटक के बेलगाम से प्रतिदिन करीब 25 टन बीफ गोवा लाया जाता है. गोवा मीट कांप्लेक्स में राज्य के एकमात्र वैध बूचड़खाने में रोजाना लगभग 2,000 किलोग्राम बीफ तैयार होता है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?