hind

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में सीएम योगी के संरक्षण वाली हिन्दू युवा वाहिनी के जेल से छूटकर आए कार्यकर्ताओं के भय से मुस्लिम परिवार के 16 सदस्यों ने गांव से पलायन कर दिया।

अलीगढ़ पलायन कर चुके परिवार का दावा है कि आरोपी उन पर हत्या का मामला वापस लेने का दबाव डाल रहे हैं। जिसके चलते उन्होंने अपना सोनी गांव छोड़ने का निर्णय किया है। बता दें कि कथित तौर पर हिंदू युवा वाहिनी के सदस्यों ने गुलाम अहमद की गत वर्ष दो मई को पीट पीटकर हत्या कर दी गई थी।

हिन्दू युवा वाहिनी के पहासु नगरध्यक्ष हनी सिंह राघव, पलकित, ललित आदि कार्यकर्ताओं ने गुलाम अहमद की हत्या की थी। गुलाम अहमद के पुत्र शकील ने हिन्दू युवा वाहिनी के तीन कार्यकर्ताओं सहित आधा दर्जन लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कराया था।एसपी देहात रईस अहमद ने बताया कि काम काज नहीं होने के कारण परिवार ने अलीगढ़ पलायन किया है। हालांकि मामले की जांच कराकर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

yogi 650x400 41514689208

आरोप है कि जेल से छूटकर आने के बाद हिन्दू युवा वाहिनी के कार्यकर्ता अब गुलाम अहमद की ही तरह परिवार के अन्य सदस्यों को भी मारने की धमकी देते है। दूसरी ओर पुलिस का कहना है कि मुस्लिम परिवार ने पलायन तो किया है लेकिन इसलिए नहीं की उनको इनसे भय है नहीं बल्कि इसलिए की उनके पास कोई आमदनी का जरिया नहीं है।

शकील की पत्नी सितारा ने दावा किया कि उन्हें प्रताड़ित किया जा रहा है इसलिए 13 व्यक्तियों के परिवार ने गांव छोड़ने का निर्णय किया है। पुलिस अधीक्षक रईस अख्तर का इस मामले में कहना है, ‘पुलिस को मामले की जानकारी है और जरूरी कार्रवाई की जाएगी।’

Loading...