ग्वालियर.  सुप्रीम कोर्ट के आदेश के खिलाफ जाकर मोदी सरकार ने एससी-एसटी एक्ट में जो बदलाव किया है। वह अब बीजेपी के लिए बड़ी मुसीबत बन चुका है। इस मामले में सवर्णों का विरोध तेज होता जा रहा है।

सोमवार को खेल एवं युवक कल्याण मंत्री यशोधरा राजे ने अपना शिवपुरी दौरा तो नवकरणीय ऊर्जा मंत्री नारायण सिंह कुशवाह ने अंबाह का आैर राज्यमंत्री ललिता यादव ने सवर्णों के आंदोलन के चलते अपना दतिया का दौरा निरस्त कर दिया।

बता दें कि इससे पहले चुरहट में रविवार देर शाम मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को अपनी जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान भारी विरोध का सामना करना पड़ा था। चौहान के काफिले को न केवल काले झंडे दिखाए गए बल्कि कुछ लोगो ने पत्थरबाजी भी की थी।

bjp2 kvwe 621x414@livemint

इसके अलावा रविवार को मुरैना में स्वास्थ्य मंत्री रुस्तम सिंह आैर ग्वालियर में नगरीय विकास मंत्री माया सिंह को सवर्ण समाज के लोगों के विरोध प्रदर्शन का सामना करना पड़ा था। जिसके बाद ग्वालियर ग्रामीण के विधायक भारत सिंह कुशवाह भी अंबाह में आयोजित कार्यक्रम ही रद्द कर दिया।

जिला प्रशासन ने ग्वालियर जिले में सभी लाइसेंस 11 सितंबर तक के लिए निलंबित कर दिए हैं। इस दौरान कोई भी व्यक्ति हथियार प्रदर्शन नहीं कर सकता। जज, प्रशासनिक अधिकारी, अस्पताल आदि पर यह आदेश लागू नहीं होगा। शिवपुरी में धारा 144 लागू की गई है, जो 6 सितंबर तक रहेगी।