गहलोत के बेटे को नहीं होने दिया इफ्तार में शामिल, मौलाना की दो टूक – ऐसी सियासत मंजूर नहीं

11:45 am Published by:-Hindi News
viabhav

पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे और पीसीसी महासचिव वैभव गहलोत को टोंक की एक मस्जिद में इफ्तार में शामिल होने से रोक दिया गया. जिसके बाद उन्हें वहां से बैरंग लौटना पड़ा.

दरअसल, मुस्लिम समुदाय के लोगों ने उनका यह कहकर विरोध किया कि इफ्तार जैसे धार्मिक कार्यक्रम में सियासत नहीं होने देंगे. गहलोत टोंक नगर परिषद के दो बार सभापति रहे मोहम्मद अजमल की ओर से रखी गई इफ्तार पार्टी में शामिल होने पहुंचे थे.

जानकारी के अनुसार, वैभव गहलोत, बीज निगम के पूर्व अध्यक्ष धर्मेंद्र राठौड़, मोहम्मद अजमल, पूर्व कांग्रेस जिलाध्यक्ष जैसे ही मस्जिद में प्रवेश करने लगे तो वहां पहले से जमा कुछ लोगों ने उनका विरोध किया. फिर मौलवी सईद साहब ने सीढिय़ों के पास से ही उन्हें वापस लौटा दिया।

इससे पहले यह रोज़ा इफ्तार पार्टी अमीर गंज की जामा मस्जिद में रखी गई थी, लेकिन वहां भी लोगों ने इस इफ्तार पार्टी का विरोध किया। जिसकी वजह से स्थान बदलना पड़ा था. बताया जा रहा है कि वैभव गहलोत टोंक से चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे है.

बता दें कि रमजान के महीने में इफ्तार को राजनीतिक पार्टियां मुस्लिम समुदाय में अपनी पैठ बनाने के लिए इस्तेमाल करती है. लेकिन अब मस्जिदों में इस तरह की राजनीति का विरोध होना शुरू हो गया है.

खानदानी सलीक़ेदार परिवार में शादी करने के इच्छुक हैं तो पहले फ़ोटो देखें फिर अपनी पसंद के लड़के/लड़की को रिश्ता भेजें (उर्दू मॅट्रिमोनी - फ्री ) क्लिक करें