हरियाणा सरकार ने आरक्षण आंदोलन की आग शांत न कर पाने के कारण कई पुलिस अधिकारियों को सस्पेंड कर दिया है वहीं प्रदेश में जाट उपद्रवियों के द्वारा ऐसी क्रूरता की गयी जिससे लोगों की रूह काँप जा रही है । उपद्रवियों ने हजारों करोड़ की संपत्ति स्वाहा करने के साथ साथ महिलाओं और बच्चों पर जुल्म ढाये ।

जाट आंदोलन के दौरान मुरथल हाईवे पर महिलाओं के कुछ कपड़े मिले हैं। दबी जुबान कुछ लोगों ने भी माना है कि ये यहां हुई दरिंदगी के ही निशान हैं। बता दें कि यहां करीब दस मीटर एरिया में जगह-जगह महिलाओं की ब्रा, जींस, अंडर गारमेंट्स और टॉप्स फटे पड़े हैं। अलग-अलग दावों की मानें तो कपड़े ज्यादती की शिकार महिलाओं के ही हैं। हालांकि, अभी तक यह कन्फर्म नहीं हुआ है। उधर, पूरे मामले पर हाईकोर्ट ने हरियाणा सरकार को फटकार लगाई है। जबकि पुलिस ने आरोपों को नकारा है।

– आसपास के लोग भी दबी जुबां के साथ महिलाओं के साथ दरिंदगी की बात को स्वीकार रहे हैं।
– लेकिन वह कहते हैं की डर के कारण किसी ने शिकायत की हिम्मत नहीं जुटाई।
– वे कहते हैं हालात इतने खराब थे कि लोग मारकाट और आगजनी कर रहे थे, पुलिस मौन खड़ी थी।
– हमें भी यहां कारोबार करना है इसलिए खुलकर शिकायत नहीं कर सकते।  साभार; haryanaabtak
मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?