Thursday, October 21, 2021

 

 

 

दलित महिला के साथ गैंगरेप, पुलिस ने नहीं लिखी FIR तो की खुदकुशी, चौकी प्रभारी गिरफ्तार

- Advertisement -
- Advertisement -

यूपी के हाथरस में दलित किशोरी के साथ गैंग रेप और फिर हत्या करने को लेकर देश में काफी गुस्सा है। इसी बीच अब मध्य प्रदेश के नरसिंहपुर के चीचली गांव में दलित महिला के साथ गैंगरेप की वारदात सामने आई है। जहां पुलिस के एफ़आईआर न लिखने के बाद पीड़िता महिला ने खुदखुशी कर ली।

मामले में तीन आरोपियों अरविंद, मोतीलाल और अनिल राय को गिरफ्तार कर लिया गया है। वहीं सीएम के निर्देश के बाद एफआईआर नहीं लिखने वाले चौकी प्रभारी मिश्रीलाल की भी गिरफ्तारी हुई है। इस मामले के इसके साथ ही तत्काल प्रभाव से एडिशनल एसपी, एसडीओपी को हटा दिया गया है।

पीड़ित के पति ने आरोप लगाया कि वो आरोपियों के खिलाफ थाने के चक्कर लगाते रहे लेकिन उनकी FIR नहीं लिखी गयी। हालांकि सीएम शिवराज की सख़्ती के बाद अब  गैंगरेप के दो आरोपियों को गिरफ्तार कर 376 D और 306 धारा के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। सीएम ने कहा है कि प्रदेश में रेप के आरोपियों को बख्शा नहीं जाएगा।

इस मामले में पूर्व सीएम कमलनाथ ने ट्वीट किया। उन्होने कहा, भाजपा शासित राज्यों में बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ नारो की ये है वास्तविकता ? यूपी के साथ- साथ मध्यप्रदेश में भी बहन- बेटियों के साथ दरिंदगी-दुष्कर्म की घटनाएँ निरंतर घटित हो रही है। खरगोन , सतना , जबलपुर के बाद अब नरसिंहपुर के चिचली थाना के अंतर्गत एक गाँव में एक दलित महिला से गैंगरेप की घटना होने पर पीड़िता की कोई सुनवाई नहीं हुई ।

उन्होने लिखा, उल्टा पीड़िता के परिवार को ही प्रताड़ित करने की बात सामने आयी है। मजबूरीवश पीड़िता ने अपनी जान दे दी। ये कैसी क़ानून व्यवस्था ? दोषियों पर कार्र्वाई क्यों नहीं ? ज़िम्मेदार इन घटनाओं पर मौन क्यों ?विपक्ष में रहते हुए ऐसी घटनाओं पर धरने देने वाले आज कहां ग़ायब हैं ?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles