यूपी के लखनऊ में बेहद ही शर्मनाक मामला सामने आया है. सरोजनीनगर निवासी एक किशोरी के साथ शुक्रवार रात 3 युवकों ने सामूहिक बलात्कार कर सड़क पर छोड़ दिया. जिसके बाद पीड़िता ने रास्ते से गुजर रहे एक युवक से मदद की मांग की तो उसने भी मदद के नाम पर फायदा उठाते हुए उसे बलात्कार किया.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, कैंसर पीड़ित किशोरी शनिवार शाम करीब 4:30 बजे सामान लेने चिल्लावां बाजार गई थी. इसी दौरान उसका परिचित शुभम उसे मिला. जो इधर-उधर की बातों से फुसलाने के बाद उसे पास ही सुनसान में स्थित एक झोपड़ी में ले गया और अपने दोस्त के साथ रात 11 बजे तक बलात्कार किया.

दोंनो रात में उसे बाइक से सड़क तक लेकर आने के बाद छोड़कर भाग गए. इसी दौरान रास्ते से गुजर रहे  बंथरा के जयसिंह खेड़ा निवासी वीरेंद्र यादव ने बाइक से गुजर रहा था. पीडिता ने उसको पूरी आपबीती सुनाई.  आपबीती सुनने के बाद वह उसे घर छोड़ने के बहाने बाइक पर बैठाकर थोड़ी दूर आगे पुलिया के पास ले गया और उसने भी उसके साथ बलात्कार किया. फिर वहीँ छोड़ कर भाग गया.

देर रात सड़क पर भटक रही किशोरी को देख कुछ राहगीरों ने बिजनौर चौकी पर सूचना दी. तड़के 3 बजे पुलिस पीड़िता को लेकर उसके घर पहुंची.  पुलिस ने तत्काल रिपोर्ट दर्ज वीरेंद्र यादव को गिरफ्तार कर लिया. हालांकि शुभम और उसके दोस्त की तलाश की जा रही है.

इंस्पेक्टर डी.के. शाही का कहना है कि वीरेंद्र बालू मोरंग का सप्लायर है. उसने अपना जुर्म भी स्वीकार कर लिया है. उन्होंने बताया कि रहीमाबाद निवासी शुभम और उसके दोस्त की तलाश की जा रही है. शुभम के घरवालों और रिश्तेदारों को थाने पर बैठाया गया है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?