ग्रेटर नोएडा के पास जेवर में रात क़रीब एक-डेढ़ बजे बुलंदशहर जा रहे एक परिवार के साथ लूटपाट करने, परिवार की महिलाओं के साथ सामुहिक बलात्कार करने और विरोध करने पर परिवार के मुखिया की जान लेने के मामलें में पुलिस ने चार लोगों को हिरासत में लिया है.

हालांकि अभी भी छह आरोपियों की तलाश जारी है. यूपी पुलिस ने इसके लिए 7 टीमों का गठन किया. साथ ही केस को जल्द सुलझाने के लिए पुलिस एसटीएफ़ से मदद ले रही है. कांग्रेस ने इस जघन्य कांड को प्रदेश सरकार के माथे पर कलंक बताया है. जबकि, सपा ने कहा है कि प्रदेश की जनता इससे थर्ऱा गई है. इस बीच पूरे मामले में पुलिस के हाथ अबतक खाली हैं.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राजबब्बर ने एक प्रतिनिधिमंडल के साथ मौके पर पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया. इस दौरान उन्होंने कहा कि इस घटना से यह साफ हो गया है कि प्रदेश में कानून व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त हो चुकी है और पूरा प्रदेश अपराधियों की गिरफ्त में आ गया है. राजबब्बर ने कहा, “जेवर की यह घटना प्रदेश सरकार के माथे पर कलंक है.’

समाजवादी पार्टी के नेता व उत्तर प्रदेश में नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी ने कहा कि बुलंदशहर में हुई हत्या, लूट और सामूहिक दुष्कर्म की घटना प्रदेश की भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) सरकार पर काला धब्बा है. चौधरी ने कहा कि जब से प्रदेश में बीजेपी की सरकार आई है आम जनता दहशत में है. अपराधी सामानांतर सरकार चला रहे हैं. अपराधी एक से बढ़ कर एक भयावह घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं.

Loading...