Monday, May 17, 2021

नरसिंहानंद के खिलाफ किया प्रदर्शन तो एमपी पुलिस ने किया चार को गिरफ्तार

- Advertisement -

पैगंबर मुहम्मद (सल्ल) के बारे में “अपमानजनक” टिप्पणी करने के मामले में हिंदू पुजारी यति नरसिंहानंद सरस्वती को गिरफ्तार करने की मांग कर रहे प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार करने के मामला सामने आया है।

जानकारी के अनुसार, मध्य प्रदेश के बालाघाट जिले में शुक्रवार को जामा मस्जिद के पास यति नरसिंहानंद सरस्वती के खिलाफ विरोध प्रदर्शन को लेकर विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) के सदस्यों द्वारा दायर की गई एक शिकायत पर इन लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

बालाघाट के कोतवाली पुलिस स्टेशन में दर्ज एक प्राथमिकी में, शिकायतकर्ता, बजरंग दल के जिला प्रभारी रामेश्वर राणा ने कहा, आरोपी – मतीन अजहरी, कासिम खान, सोहेब खान और रज़ा खान ने डासना पुजारी का एक पोस्टर सड़क  पर चिपकाया था। और उसे जूते से मार रहे थे।

विहिप के सदस्य दुर्गेश शर्मा ने संवाददाताओं से कहा कि बालाघाट एक शांतिपूर्ण जिला रहा है, लेकिन कुछ लोग शांति को बाधित करने की कोशिश कर रहे हैं, जिसका विहिप और बजरंग दल सहित सभी हिंदू संगठनों ने विरोध किया है। “अगर वे किसी चीज़ के लिए अपना विरोध दर्ज कर रहे थे, तो यह एक ज्ञापन के माध्यम से किया जा सकता है। इस तरह के कृत्य स्वीकार्य नहीं हैं।

कोतवाली पुलिस स्टेशन के इंस्पेक्टर मंशाराम रोमडे ने पुष्टि की कि एक प्राथमिकी दर्ज की गई और चार लोगों को गिरफ्तार किया गया। उन्होंने इसे सांप्रदायिक रूप से संवेदनशील मामला बताते हुए आगे कोई भी विवरण साझा करने से इनकार कर दिया।

बालाघाट में AIMIM के जिला प्रभारी नाज़िम खान ने कहा, एआईएमआईएम के पांच लोगों के एक प्रतिनिधिमंडल ने भी पुलिस को लिखा है कि वे 1 अप्रैल को नई दिल्ली में प्रेस क्लब ऑफ इंडिया में अपनी टिप्पणी के लिए डासना पुजारी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करें। “

उन्होने कहा, “पूरे मुस्लिम समुदाय की भावनाओं को आहत करने वाले संत के खिलाफ कार्रवाई करने के बजाय, हमारे समुदाय के चार सदस्यों को गिरफ्तार किया गया है।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles