राजस्थान के अलवर में कथित गौरक्षा के नाम हुई पहलू खान की हत्या को लेकर राज्य के 23 पूर्व नौकरशाहों ने मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया के समक्ष पत्र लिखकर चिंता जाहिर की हैं.

उन्होंने वसुंधरा सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि यह अनियंत्रित गौरक्षा बड़े पैमाने पर हिंसा का रूप ले लेगी. पत्र में पहलू खान के हत्यारों की गिरफ्तारी की भी मांग की गई हैं. इन नौकरशाहों में 1968 बैच आईएएस गोपालकृष्ण गांधी, अरुण कुमार, अरुणा रॉय और वजाहत हबीबुल्ला शामिल हैं

इस बारें में हबीबुल्ला ने बताया कि उन्होंने मुख्यमंत्री राजे को लिखा है वे उन अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई करके एक मिसाल स्थापित करेंगी. हम खानकी हत्या के कारण बहुत परेशान हैं. हम इस घटना के बाद सरकार की चूक और आयोग के कृत्यों से भी निराश हैं, जिसमें देरी भी शामिल है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने चेतावनी दी कि यदि इस तरह की सतर्कता की जांच नहीं की गई तो वह लोग बड़े पैमाने पर हिंसा की ओर बढ़ेंगे. पत्र में आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करने का आग्रह किया गया है.

Loading...