bhu

bhu

वाराणसी के काशी हिन्दू विश्वविद्यालय में छात्राओं के साथ छेड़खानी के मामले रुकने का नाम नहीं ले रहे है. सोमवार को विश्वविद्यालय में दलित छात्रा के साथ छेड़खानी की गई. दलित छात्रा ने जब इस का विरोध किया तो उसके साथ मारपीट की गई.

पीड़िता राजनीति विज्ञान के एमए प्रथम वर्ष की छात्रा है. आरोपी की पहचान शिवानन्द सिंह परमार के रूप में हुई है. जो उसका ही सहपाठी है. पीडिता का आरोप है कि जब उसके छेड़खानी का विरोध किया तो शिवानंद ने उसकी पिटाई कर दी.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

घटना की जानकारी होते ही बड़ी संख्या में छात्र-छात्राएं इकट्ठा हो गए और विभागाध्यक्ष के कक्ष के बाहर हंगामा शुरू कर दिया. छात्राओं ने बताया कि शिवानंद पिछले एक साल से उन्हें परेशान कर रहा है और लगातार फब्तियां कसता है. जिसे लेकर वे डरी हुई हैं.

छात्र-छात्राओं ने चीफ प्रॉक्टर को बताया की छेड़खानी के मामले को लेकर पहले भी शिवानंद के विरुद्ध लिखित शिकायत विभागाध्यक्ष और प्रोक्टोरियल बोर्ड में की थी. लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई. आरोपित छात्र को पुलिस ने 354 और 323 की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर हिरासत में ले लिया है.

पूछताछ के दौरान शिवानंद ने कहा कि पहले लड़की ने मेरी पिटाई की थी. उसका बदला लेने के लिए मैंने उसे पीटा। मैंने उसके साथ छेड़खानी नहीं की.