गुजरात देश का पहला ऐसा राज्य बनने जा रहा है है. जहाँ VVPET मशीनों के साथ विधानसभा के चुनाव होंगे. इस बात की जानकारी भारत के मुख्य चुनाव आयुक्त अचल कुमार ज्योति ने दी है.

अगले माह होने वाले इन चुनावों की तैयारी को लेकर समीक्षा के लिए गांधीनगर पहुंचे ज्योति ने बताया कि विधानसभा चुनाव में EVM के साथ VVPET मशीन लगेगी तथा मतदाताओं को बूथ के नक्शे के साथ मतदाता पर्ची दी जाएगी. चुनाव आयोग के अनुसार, इस बार राज्य में मतदान केंद्रों की संख्या करीब दो हजार से बढ़ाकर 50 हजार 120 कर दी गई. साथ ही इन केन्द्रों पर करीब 75 हजार EVM मशीन का इस्तेमाल होगा.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उच्चतम न्यायालय के आदेश के बाद EVM के साथ VVPET (वोटर वेरिफाइड पेपर ऑडिट ट्रेल) मशीन लगाने की भी तैयारी हो रही है. भारत इलेक्ट्रॉनिक ने दस हजार जबकि इलेक्ट्रॉनिक कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया ने 5 हजार VVPET मशीन उपलब्ध करा दीं हैं. इसके अलावा अब भी 60 हजार मशीनों की जरूरत है.

ध्यान रहे चुनाव परिणामो में गड़बड़ी की आशंका के चलते गुजरात की पाटीदार नेता रेशमा पटेल ने उच्चतम न्यायालय में याचिका दाखिल कर EVM के साथ VVPET लगाकर ही चुनाव कराने की मांग की थी.

वहीँ कांग्रेस के एक प्रतिनिधिमंडल ने राज्य चुनाव आयोग से मुलाकात कर पर्याप्त संख्या में VVPET की व्यवस्था नहीं होने पर राज्य में बैलेट पेपर से ही चुनाव संपन्न कराने की मांग की.

Loading...