Sunday, August 1, 2021

 

 

 

यूपी पुलिस के सिंघम पर एफ़आईआर दर्ज, महिला ने लगाया गंभीर आरोप

- Advertisement -
- Advertisement -

भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) के अधिकारी अजय पाल शर्मा के खिलाफ लखनऊ के हजरतगंज थाने में एक महिला ने एफ़आईआर दर्ज कराई है। खुद को अजयपाल की पत्नी बताने वाली दीप्ति शर्मा गाजियाबाद के साहिबाबाद स्थित आस्था अपार्टमेंट में रहती है और दिल्ली हाई कोर्ट और सुप्रीम कोर्ट में प्रैक्टिस कर रही हैं।

एफआईआर में चंदन राय, एसएसआई विजय यादव के साथ अन्य पुलिसकर्मी भी नामजद किए गये हैं। विशेष सचिव गृह अनिल कुमार सिंह के निर्देश पर हजरतगंज पुलिस ने आईपीएस अजयपाल के खिलाफ गबन, आपराधिक साजिश और साक्ष्य मिटाने की धाराओं में एफआईआर दर्ज की है।

आरोप है कि  एसपी सिटी गाजियाबाद रहते अजय पाल शर्मा ने 2016 में दीप्ति से शादी की थी। 19 अगस्त 2019 को ठगी के मुकदमे में अजय पाल शर्मा ने कथित पत्नी दीप्ति को जेल भेजा था। जेल भिजवा कर शादी के सबूत मिटाने के लिए अजय पाल शर्मा ने रामपुर से अपने करीबियों को भेजा था।

दीप्ति ने कहा कि 18 सितंबर 2019 को रामपुर जिले के सिविल लाइन थाने के बृजेश राना, मथुरा व कुछ अन्य लोग घर पहुंचे। घर से लैपटॉप, डीवीआर और अन्य सामान उठा ले गए। इसकी शिकायत उन्होंने डीआईजी रेंज मेरठ से भी की थी। दीप्ति का कहना है कि इससे पहले 11 मार्च को फोन पर उनका अजयपाल शर्मा से झगड़ा हुआ था।

गौरतलब है कि नोएडा से हटाए गए आईपीएस वैभव कृष्ण ने जिन पांच अफसरों पर आरोप लगाया था, उनमें अजय पाल शर्मा भी शामिल हैं। इनके खिलाफ एसआईटी जांच भी हुई थी, जिसमें अजय पाल के खिलाफ भी सबूत मिले हैं। अजय पाल के नाम 100 से अधिक एन’काउंटर दर्ज हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles